आरोपों से भरा हुआ AAP का ‘मिनी घोषणा पत्र’! कहा- '70 साल से दिल्ली के साथ हुआ सौतेला व्यवहार, जॉब में देंगे 85% आरक्षण'


दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की कर वर्तमान सरकार समेत पूर्व की सरकारों पर दिल्ली की जनता के साथ सौतेला व्यवहार करने का आरोप लगाया। इसी के साथ वो दिल्ली की जनता से कई वादे करते दिखे। खबर पढ़ेंगे तो ऐसा लगेगा जैसै केजरीवाल ने आरोपों से भरा हुआ AAP का ‘मिनी घोषणा पत्र’ जारी किया हो, लेकिन ऐसा नहीं है। 


हिंदी दैनिक आज का मतदाता नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर वर्तमान सरकार समेत पूर्व की सरकारों पर दिल्ली की जनता के साथ सौतेला व्यवहार करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि ‘आने वाले चुनाव दिल्ली की जनता के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं। इस बार जनता दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने के लिए वोट करेगी। दिल्ली की जनता का शोषण हुआ है। 70 साल से दिल्ली के साथ सौतेला व्यवहार होता रह है।’


अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ‘दिल्ली दूसरे नंबर पर टैक्स देती है फिर भी केंद्र की तरफ से 2 करोड़ आबादी वाली दिल्ली पर सिर्फ 325 करोड़ खर्च किए गए। दिल्ली को आधा राज्य होने की वजह से ऐसा व्यवहार झेलना पड़ रहा है।’ उन्होंने कहा कि ‘दिल्ली सरकार ने अपनी सभी जिम्मेदारियों को पूरा किया ह। लेकिन, केंद्र सरकार ने हमारे काम में अड़चन लगाई।’केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि ‘दिल्ली के पास पूरी पावर नही है। आज दिल्ली में महिलाएं असुरक्षित हैं, गुंडागर्दी है, लोग पुलिस के पास जाते है तो वो सुनती नहीं है और हमारे पास पावर नहीं है।’ इस दौरान उन्होंने दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाए जाने की मांग को आगे बढ़ाते हुए कहा कि ‘पूर्ण राज्य बनने के बाद हम दिल्ली को सबसे सुरक्षित शहर बनाएंगे।’


दिल्ली के मुख्यमंत्री ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में रोजगार का मुद्दा भी उठाया। उन्होंने कहा कि ‘रोजगार नहीं हैं। वैकेंसी निकालने की पावर दिल्ली सरकार के पास नहीं हैं। दिल्ली के कॉलेज में 85% सीट दिल्ली के बच्चों के लिए रिजर्व होनी चाहिए। पूर्ण राज्य का दर्जा मिलने के बाद इन सभी अधूरे कामों को पूरा करेंगे। कच्चे कर्मचारियों को हम पक्का करेंगे।’ उन्होंने कहा कि ‘सीलिंग के चलते व्यापारी परेशान हुए और BJP हांथ बांधे बैठी थी।’


अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ‘ये चुनाव पूर्ण राज्य के ऊपर लड़ा जाएगा। दिल्ली की जनता इस बार आंदोलन छेड़ेगी। बीजेपी लोगों को इस मुद्दे पर धोका दे रही है। दिल्ली की जनता को मोदी जी ने धोका दिया।’ उन्होंने कहा कि ‘जनता कांग्रेस और बीजेपी से जवाब चाहती है।’


इसके अलावा अरविंद केजरीवाल ने AAP की जीत का भी दावा किया। उन्होंने कह कि ‘सर्वे के मुताबिक हम पूर्ण बहुमत से जीतेंगे। पूर्ण राज्य को लेकर दिल्ली के लोग उत्साहित हैं।’ उन्होंने भारत-पाकिस्तान के बीच तनाव को लेकर कहा कि जनता के बीच इसका असर बीजेपी के खिलाफ गया। हमें पता था चुनाव से पहले ये कोई ना कोई लफड़ा करेंगे।’


उन्होंने कहा कि ‘कांग्रेस के साथ बिना गठबंधन के भी हम अपने बूते पर जीतेंगे। देश जरूरी है इसलिए हमने गठबंधन की बात की। आज देश में सिर्फ दो तरह के लोग हैं, एक मोदी भक्त और दूसरे मोदी को जो हराना चाहते हैं। मोदी- शाह की जोड़ी देश के लिए खतरनाक है, जनता सबक सिखाएगी।’ उन्होंने कहा कि ‘ये लोग जानबूझकर मन्दिर, सीमा पर बवाल कराएंगे।’ हालांकि, केजरीवाल से जब सवाल पूछा गया कि क्या पुलवामा हमले को लेकर आपका इशारा किसी की तरफ है तो इस सवाल से अरविंद कन्नी काट गए।


टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
स्वास्थ्य के प्रति हमेशा सजग रहे डॉक्टर नीतिका शुक्ला
चित्र
पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के साथ विकसित होने वाले औद्योगिक क्लस्टर के माध्यम से बड़ी संख्या में रोजगार के अवसर भी उपलब्ध होंगे
चित्र
मोदी खुद शहंशाह, मेरे भाई को शहजादा बोलते हैं: गुजरात में प्रियंका गांधी ने प्रधानमंत्री पर किया पलटवार
चित्र
कोरोना वायरस: भारत में 1.56 लाख से अधिक की मौत, विश्व में मृतक संख्या 25 लाख के पार
चित्र