लोकसभा चुनाव 2019 : आसमान भी बना चुनावी अखाड़ा, भाजपा ने बुक कराए 60 फीसद हेलिकॉप्टर

 



 खास बातें



  • देश में हैं कुल 260 हेलिकॉप्टर और 200 चार्टर्ड प्लेन, सभी हो चुके बुक

  • 60 फीसद बुकिंग भाजपा की तो 40 फीसद कांग्रेस व अन्य दलों के पास 

  • हेलिकॉप्टर से एक दिन के प्रचार पर खर्च होते हैं 10 से 15 लाख रुपये

  • विशेषज्ञों के मुताबकि पहले कभी नहीं हुई हेलिकॉप्टर की इस तरह से बुकिंग



 

डिजिटल प्लेटफॉर्म तो चुनावी जंग का मैदान बन ही चुके हैं, आसमान भी इस दौड़ में शामिल हो गया है। चुनाव प्रचार के लिए गाड़ियां, मोटरसाइकिलें और बाकी वाहन तो इस्तेमाल किए ही जा रहे हैं अब हेलिकॉप्टर के माध्यम से आसमान में भी चुनाव प्रचार किया जाएगा। हेलिकॉप्टर और चार्टर्ड प्लेन बुक करवाने में भारतीय जनता पार्टी सबसे आगे है। लोकसभा चुनावों को देखते हुए भाजपा ने महीनों पहले ही प्रचार के लिए करीब 60 फीसद हेलिकॉप्टर की बुकिंग करवा ली थी। 


आम चुनाव की तिथियां नियत होने के साथ चुनावी सरगर्मियां भी बढ़ने लगी हैं। मतदाताओं को रिझाने और अपनी बात जनता तक पहुंचाने के लिए सभी राजनीतिक दल तैयारियां करने लगे हैं। कभी लाउडस्पीकर, पोस्टर और कार्यकर्ताओं की रैलियों पर लड़े जाने वाले चुनाव अब केवल यहीं तक सीमित नहीं रह गए हैं। पिछले लोकसभा चुनाव में भाजपा जिस तरह से सोशल मीडिया को हथियार की तरह इस्तेमाल किया था और विपक्ष को नेस्तनाबूत करने में सफलता भी पाई थी। 

चुनाव के चलते अगर सबसे ज्यादा लाभ में कोई है तो हेलिकॉप्टर और चार्टर्ड प्लेन बुक करने वाली कंपनियां। सामान्यत: घंटों के हिसाब से हुक होने वाले हेलिकॉप्टर औऱ चार्टर्ड प्लेन पूरे चुनावी सीजन के लिए बुक हो चुके हैं। विशेषज्ञ बताते हैं कि जिस तरह से इस बार हेलिकॉप्टर बुकिंग हुई है वैसे पहले कभी नहीं हुई। हेलिकॉप्टरों की सीमित संख्या ने इस दौड़ को और तेज किया है ताकि विपक्षी दलों की गति को धीमा किया जा सके। 

आंकड़ों के मुताबिक भारत में हेलिकॉप्टर की संख्या जहां 260 है वहीं चार्टर्ड प्लेन 200 हैं। इनमें करीब 60 फीसद की बुकिंग भाजपा पहले ही करा चुकी है। बाकी के 40 फीसद कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों के पास हैं। कांग्रेस इस बात की शिकायत कर रही है भाजपा ने बुक कराने के लिए हेलिकॉप्टर ही नहीं छोड़े। हालांकि, इस बार एक-दूसरे का हाथ थामकर लड़ रही पार्टियां हेलिकॉप्टर शेयरिंग भी करने की तैयारी में हैं। 

 


टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
आंचलिक पत्रकार और पत्रकारिता की गिरती साख- प्रेम श्रीवास्तव
हर महिला की लड़ाई, हमारी लड़ाई है- अल्का लांबा
चित्र
वर्तमान समय में आंखों का इलाज अत्याधुनिक हो चुका है डॉ अजय कुमार गर्ग
चित्र
नाक कान और गला शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंग है डॉक्टर अंशुल गर्ग
चित्र