मसूद पर चीन के वीटो के खिलाफ लोग इस तरह निकाल रहे गुस्सा

पुलवामा आतंकी हमले की जिम्मेदारी लेने वाले आतंकी मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित किए जाने पर चीन ने चौथी बार अड़ंगा डाल दिया है। उसने ऐसा करके एक बार फिर अपना असली चेहरा दिखा दिया है। चीन के इस कदम के बाद लोग खुलकर उसका विरोध करने लगे हैं। ट्विटर और फेसबुक पर लोग चीन के खिलाफ अपना गुस्सा जाहिर कर रहे हैं। अजहर को मिले चीन के समर्थन की वजह से लोगों ने चीनी सामान का बहिष्कार करने की घोषणा की है।


चीन के अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित किए जाने पर वीटो लगाने के बाद #BoycottChina और #Boycottchineseproducts ट्विटर पर ट्रेंड करने लगा। लोगों का ट्वीट करके यहां तक कहना है कि इस बार आईपीएल न देखें क्योंकि कई चीनी कंपनियां इस बार प्रायोजक बनी हुई हैं। कुछ लोगों का कहना है कि चीनी ऐप को अनइंस्टॉल कर देना चाहिए। इन चीनी ऐप्स का नाम है- टिकटॉक, लाइक, हेलो, शेयरइट और पबजी।

#ChinaShieldsMasood भी ट्विटर पर काफी ट्रेंड कर रहा है। ओमकार नाम के यूजर ने लिखा, 'चीन आधिकारिक तौर पर एक आतंकी का समर्थन कर रहा है। बेशर्म देश। बेशर्म लोग। बेशर्म चीनी।' एख यूजर ने लिखा, 'आतंकवाद के लिए पाकिस्तान और चीन दोनों बराबर के जिम्मेदार हैं। मैंने कभी चीन पर किसी आतंकी हमले के बारे में नहीं सुना। यह सही समय है जब संयुक्त राष्ट्र को अपनी वीटो पॉलिसी पर दोबारा सोचना चाहिए वरना आप देख सकते हैं कि क्या हो रहा है।'

प्रदीप ढींगरा ने लिखा, 'चीन ने मसूद अजहर को बचाने के लिए चौथी बार किया वीटो पावर का इस्तेमाल। पाकिस्तान को टमाटर तक न बेचने वाले देश भक्तों से अब निवेदन रहेगा कि हर चाइनीज प्रोडक्ट का बहिष्कार करें।' हार्दिक भवसार ने लिखा, 'पप्पू अक्सर चीन राजनयिकों से छुप कर मिलता है। मसूद अजहर को जी बोलता है। फिर चीन यूएन में मसूद को बचा लेता है। क्या ये सब मात्र संयोग है?'


टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
कोरोना वायरस: भारत में 1.56 लाख से अधिक की मौत, विश्व में मृतक संख्या 25 लाख के पार
चित्र
राम नाम सत्य है - प्रेम श्रीवास्तव
चित्र