सपा मुखिया अखिलेश यादव ने मोदी और योगी पर साधा निशाना, बोले कोयला करोबारी की डकैती के जिम्मेदार डीजीपी

           



                        लखनऊ। सपा मुखिया अखिलेश यादव ने रविवार को मीडिया को सम्बोधित करते हुए कहा, कि सुल्तानपुर के कोयला कारोबारी के घर पुलिसकर्मियों द्वारा डाली गई डकैती पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि अगर पुलिस वाले डकैती डालते हैं,तो जिम्मेदार प्रेदश के डीजीपी हैं।सरकारों तुरंत डीजीपी को हटा देना चाहिए। इतना ही नही अखिलेश यादव ने कहा कि यह पहली सरकार है पुलिस वाले वाले डकैतों को पकड़ने के बजाय खुद डकैती डाल रहे हैं। सरकार को इसका जवाब देना चाहिए। बता दें, गोसाईगंज पुलिस ने शनिवार सुबह सुल्तानपुर के कोयला कारोबारी अंकित अग्रहरि के फ्लैट पर डाका डाल कर 1.85 करोड़ रुपये लूट लिए थे। इस मामले में चार पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार कर सात के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है।


अखिलेश यादव ने केंद्र और योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा,कि इस सरकार ने सेना को राजनीति में घसीटा है। ये भाजपा के लोग चुनाव जीतने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं।
अखिलेश यादव ने नीरव मोदी को लेकर कहा कि ऐसे लोग जो देश की बैंकों को कंगाल कर गए वह देश छोड़कर भाग गए उन्हें नहीं रोका गया और जब मैं इलाहाबाद विश्वविद्यालय जा रहा था तो सरकार ने जाने से रोक दिया।चुनाव की तैयारियों पर अखिलेश ने कहा कि मैं यही सोच रहा था कि पहले भाजपा के लोग प्रचार करके थक जाएं तब हम प्रचार करेंगे। फिर बोले, चुनाव की तारीखों की घोषणा होते ही चरणवार ढंग से पार्टी के कार्यक्रम तय करेंगे। इसके अलावा अखिलेश ने भाजपा सांसद द्वारा विधायक को जूते से मारने पर कहा कि यह जूतों वाली सरकार है। भाजपा सांसद अपने विधायक को 21 जूतों की सलामी देते हैं।अखिलेश यादव ने कहा कि जनता चुनाव की तारीखों का इंतजार कर रही है। देश में परिवर्तन का रुझान है क्योंकि जनता बहुत परेशान है। पिछले पांच वर्षों में न तो युवाओं को नौकरियां मिलीं और न ही किसानों की आमदनी बढ़ी। 2014 में कहा गया था कि विदेशों से सारा कालाधन लेकर आएंगे लेकिन नोटबंदी कर जो धन जनता ने ईमानदारी से कमाया था वह भी बैंकों में जमा करवा लिया।


टिप्पणियाँ