राम मंदिर निर्माण और किसानों को पेंशन समेत भाजपा के 'संकल्प पत्र' की बड़ी बातें

लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर पहले चरण के मतदान से तीन दिन पहले भारतीय जनता पार्टी ने अपने चुनावी घोषणापत्र में देश के हर वर्ग को साधने की कोशिश की है। पार्टी ने इसे 'संकल्प पत्र' नाम दिया है। भाजपा के संकल्प पत्र में राष्ट्रीय सुरक्षा, किसान कल्याण, युवा और महिला सशक्तीकरण पर खास जोर दिया गया है। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में पार्टी ने भाजपा ने घोषणापत्र समिति(मेनिफेस्टो कमेटी) बनाई थी। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के अनुसार, इसके तहत देशभर में करीब 7500 सुझाव पेटियों, 300 रथों और इलेक्ट्रॉनिक माध्यमों से जनता के सुझाव लिए गए थे। छह करोड़ लोगों की भागीदारी से पार्टी ने यह संकल्प पत्र तैयार किया है।



  • सौहार्दपूर्ण वातावरण में राम मंदिर निर्माण का प्रयास 

  • किसानों की आमदनी दोगुना करेंगे, पेंशन सुविधा

  • देश के सभी किसानों को 6,000 रुपये सालाना देंगे

  • छोटे दुकानदारों को भी 60 वर्ष की आयु के बाद पेंशन

  • ग्रामीण क्षेत्रों का विकास करेंगे

  • हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा नीति केवल हमारे राष्ट्रीय सुरक्षा विषयों द्वारा निर्देशित होगी।

  • आतंकवाद और उग्रवाद के विरुद्ध जीरो टॉलरेंस की नीति को पूरी दृढ़ता से जारी रखेंगे।  

  • सुरक्षा बलों को आतंकवादियों का सामना करने के लिए फ्री हैंड नीति जारी रहेगी।

  • संकल्प पत्र को 12 श्रेणी में बांटा गया है

  • 2022 तक 75 संकल्प पूरा करने का वादा

  • 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करेंगे

  • सारी कृषि सिंचाई परियोजनाएं पूरी करेंगे

  • पांच साल तक बिना ब्यान एक लाख का कृषि ऋण 

  • राष्ट्रीय व्यापार आयोग का गठन करेंगे

  • इंजीनियरिंग और लॉ कॉलेज समेत सभी उच्च शिक्षण संस्थानों में सीटें बढ़ाएंगे


टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
राज्यपाल अनंदीबेन पटेल से से प्रशिक्षु IAS अफ़सरों नज की मुलाक़ात !!
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
गोवंश का संरक्षण एवं संवर्द्धन राज्य सरकार की प्राथमिकता - धर्मपाल सिंह
चित्र