रोहित शेखर हत्याकांड में गिरफ्तार हुई पत्नी अपूर्वा, जानें क्या हुआ उस रात

नई दिल्ली. पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर की हत्या के मामले में दिल्ली पुलिस ने बुधवार को उनकी पत्नी अपूर्वा को गिरफ्तार कर लिया। कुछ दिनों से जांच के सिलसिले में अपूर्वा से पूछताछ की जा रही थी। रोहित की मां उज्जवला तिवारी ने कहा था कि प्रेम विवाह के बाद से ही बेटा-बहू के बीच तनाव था। अपूर्वा परिवार की संपत्ति पर कब्जा करना चाहती थी। 16 अप्रैल को रोहित की मौत का पता चला था। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में दम घुटने से मौत की बात सामने आई थी।


हत्या की गुत्थी सुलझाने के लिए क्राइम ब्रांच की जांच घटना से जुड़े आखिरी 3 घंटों पर फोकस रही। घटना वाली रात 1 बजे से लेकर तड़के 4 बजे तक के बीच की कड़ियों को जोड़ा। दरअसल सीसीटीवी फुटेज में सामने आया है कि करीब 11.30 बजे रोहित पहली मंजिल पर स्थित अपने कमरे में जाकर सो गए थे। रात 1.30 बजे अपूर्वा ग्राउंड फ्लोर से पहली मंजिल पर स्थित रोहित के कमरे में जाते हुए सीसीटीवी कैमरे में दिखाई दी। ठीक एक घंटे बाद रात 2.30 बजे वह पहली मंजिल से ग्राउंड फ्लोर पर आते दिखी। पुलिस का मानना है कि इस दौरान दोनों में हाथापाई हुई होगी।


रोहित के नंबर से आखिरी कॉल रात 4.10 बजे हुई थी
पुलिस के मुताबिक, रोहित की गर्दन पर रगड़ के निशान पाए गए थे। इसके लिए पुलिस ने मंगलवार को अपूर्वा के नाखूनों और बालों को लेकर उन्हें फोरेंसिक जांच के लिए भेजा है। क्राइम ब्रांच के एक अधिकारी ने बताया कि रोहित की कॉल डिटेल से पता चला है कि वारदात वाली तड़के करीब 4.10 बजे रोहित के मोबाइल से आखिर बार कुमकुम नाम की महिला को कॉल की गई। कई लैंडलाइन नंबर भी मिले हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में रोहित की मौत का वक्त 1.30 बजे से 2.30 बजे के बीच आया है। पता लगाया जा रहा है कि आखिर कुमकुम को रोहित के मोबाइल से किसने कॉल किया था। टीम हत्या का मकसद जानने की भी कोशिश कर रही है।


टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
संसद का शीतकालीन सत्र नहीं होगा, सरकार ने जनवरी में बजट सत्र बुलाने का सुझाव दिया
चित्र
मोदी खुद शहंशाह, मेरे भाई को शहजादा बोलते हैं: गुजरात में प्रियंका गांधी ने प्रधानमंत्री पर किया पलटवार
चित्र