संसद में आंख मारने वाला पीएम चाहिए या पाकिस्तान को आंख दिखाने वाला : अनुप्रिया पटेल

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री अनुप्रिया पटेल ने शनिवार को सेंहगों में आयोजित जनसभा में सांसद सोनिया गांधी पर तीखे हमले किए।
उन्होंने कहा कि मौजूदा लोकसभा चुनाव में मुद्दा विहीन विपक्ष केवल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विरोध कर रहा है, लेकिन यह फैसला जनता को करना है कि उन्हें संसद में आंख मारने वाला प्रधानमंत्री चाहिए या फिर पाकिस्तान व आतंकियों को आंख दिखाने वाला।


कहा कि सुपर पीएम रहीं सोनिया गांधी का संसदीय क्षेत्र रायबरेली कहने को वीआईपी है, पर विकास से कोसों पीछे रह गया, जो रायबरेली की जनता का बिन मांगे ही वोट दे देने का परिणाम है। वीवीआईपी दर्जा प्राप्त रायबरेली का जब एक चक्कर कोई लगा लेता है तो उसे यही लगता है कि ऊंची दुकान फीके पकवान, नाम बड़े दर्शन छोटे।


अनुप्रिया ने कहा कि विपक्ष ने पहले प्रधानमंत्री को चाय बेचने वाला कहकर मखौल उड़ाया, लेकिन मौजूदा समय में पूरे देश में चल रही मोदी लहर से साबित हो गया है कि भाजपा की सरकार बेहद मजबूत रही।
आने वाला समय भी इसका गवाह बनेगा कि जनता की आकांक्षाओं के अनुरूप परिणाम देने वाली मोदी सरकार ही देश का नेतृत्व करेगी। कहा कि मोदी के विरोध पर उतारू विपक्ष आज राष्ट्र विरोधी सी हरकतें कर रहा है। मौकापरस्ती का आलम यह है कि आज सांप व नेवले भी एक-दूसरे से गले मिल रहे हैं।


भाजपा प्रत्याशी दिनेश प्रताप सिंह के समर्थन में जनसभा करने आईं अनुप्रिया पटेल ने महागठबंधन पर कटाक्ष करते हुए कहा कि सारी जोड़ियां स्वर्ग में नहीं बनतीं, कुछ जोड़ियां मोदी के डर से भी बनती हैं। मोदी से भयभीत लोगों ने गठबंधन बनाया है। ये मोदी का खौफ है कि गठबंधन हो गया।


उन्होंने कहा कि पीएम मोदी का एक मात्र उद्देश्य है कि देश का विकास, गरीब, किसान, मजदूर और नौजवान की चिंता वह करते हैं, इसीलिए तमाम ऐसी योजनाएं चलाई हैं, जिनका लाभ लोगों को मिल रहा है। बताया कि देशहित में वह कड़े फैसले लेने से गुरेज नहीं करते हैं। पीएम मोदी के ही नेतृत्व में देश अभी और आगे बढ़ेगा।


टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
ईद उल अजहा की पुरखुलूस मुबारकबाद -अजय गुप्ता महासचिव केमिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन
चित्र