परिवहन विभाग ने लेली 30 लोंगो की जान आगरा हादसे में घायल और मरने वालों की सूची देखे


 


यमुना एक्सप्रेस वे पर भीषड़ सड़क हादसा


लखनऊ से दिल्ली जा रही जनरथ सेवा बस नाले में गिरी


30 की मौत 20 घायल


बचाव कार्य जारी


आगरा दुर्घटना अपडेट -*
यूपी के आगरा में सड़क हादसे में 30की मौत। आगरा में खाई में गिरी डबल डेकर बस। सड़क हादसे में अबतक 30 लोगों की मौत। 18 लोग गंभीर घायल,अस्पताल में भर्ती।
राहत बचाव कार्य में लगी पुलिस टीम। लखनऊ से दिल्ली जा रही थी एसी बस। लगभग 50 लोग डबल डेकर बस में सवार थे। डीएम-एसएसपी घटनास्थल पर मौजूद हैं। यमुना एक्सप्रेस-वे के झरना नाले के पास हुआ हादसा।


Sun indiatv news चैनल की टीम ने जब पड़ताल की तो परिवहन विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आई अवध डिपो की जनरथ एसी बस को दिल्ली भेजा था वह बलिया और गाजीपुर की रुट पर चलती थी 7/7/019 की रात को इस बस को गाजीपुर बलिया जाना था लेकिन सवारिया न होने के करण दिल्ली रूट पर भेज दिया गया ड्राइवर ने विरोध किया कि मुझे दिल्ली रूट की जानकारी नही है ।फिरभी मनमानी की गई जिसके चलते हादसा होगया और 30 लोंगो की जान चली गयी और कई मोत से जूझ रहे है।                 


उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा, परिवहन मंत्री स्वतंत्र देव सिंह घटनास्थल के लिए हुए रवाना


लखनऊ से मुख्यमंत्री के आदेश के बाद दोनों मंत्री पहुंचें


स्पेशल चार्टर्ड प्लेन से दोनों उप मुख्यमंत्री व  मंत्री पहुंचे।


आगरा हादसे में 30 मौतों के बाद मुख्यमंत्री ने गठित की जांच कमेटी ।


ट्रांसपोर्ट कमिश्नर, डिविजनल कमिश्नर और आईजी आगरा 24 घंटे के भीतर सौंपेंगे रिपोर्ट


हादसे के कारणों और तमाम बिंदुओं पर मुख्यमंत्री ने तलब की रिपोर्ट

एत्मादपुर थाना क्षेत्र के यमुना एक्सप्रेस वे पर हुआ हादसा। बस में सवार थे 53 लोग। 30 लोगों की मौके पर दर्दनाक मौत, घायलों को निजी अस्पताल और एसएन हॉस्पिटल इलाज के लिए भेजा गया। आईजी, एसएसपी, डीएम और कमिश्नर ने घटना स्थल का किया निरीक्षण।
घायलों और मृतकों के परिजनों को जानकारी जुटाने के लिए पुलिस ने जारी किया कंट्रोल रूम का नंबर।
0562226001 पर जानकारी ले सकते हैं घायल व मृतक के परिजन। मुख्यमंत्री ने मृतक के परिजनो को 5 लाख मुआवजे का किया ऐलान। लखनऊ से उप मुख्यमंत्री व मंत्री स्वतंत्र देव सिंह आगरा के लिए रवाना। घायलों से मिलने के साथ साथ मृतकों के परिजनों से भी मुलाकात करेंगे। लखनऊ से दिल्ली जा रही थी बस।
पुलिस प्रशासन का रेस्क्यू ऑपरेशन खत्म, बस को निकाला गया। घायलों के इलाज के लिए सीएमओ के नेतृत्व में चल रहा है इलाज। पोस्टमार्टम गृह पर अधिकारियों का जमावड़ा।


टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
राज्यपाल अनंदीबेन पटेल से से प्रशिक्षु IAS अफ़सरों नज की मुलाक़ात !!
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
गोवंश का संरक्षण एवं संवर्द्धन राज्य सरकार की प्राथमिकता - धर्मपाल सिंह
चित्र