सरस्वती डेंटल कॉलेज और इनर व्हील क्लब ने इस वर्ष "मिशन ममता " नामक आदर्श वाक्य के साथ पर्यावरण के लिए पेड़ लगाने के उद्देश्य से वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया |डॉ हिमांगी दुबे

                "ब्रेस्ट फीडिंग वीक" के अवसर पर सरस्वती डेंटल कॉलेज में डॉ. आर. एस. बेदी, प्रिंसिपल, विभागाध्यक्ष ओरल एवं मौक्सिलो फेसिअल विभाग द्वारा बच्चों के स्तनपान के महत्व और स्वस्थ मौखिक गर्भवास्था पर ज़ोर देने के उद्देश्य से ओरल हेल्थ फॉर ओवरऑल हेल्थ तथा क्लीनिकल इनोवेशन इन बॉन्डिंग डेन्टिस्ट्री पर संगोष्ठी आयोजित की गयी| जिसपर प्रो. डॉ. चेतन चंद्रा, पेरिओडॉन्टिक्स विभाग तथा अतिथि व्याख्यता डॉ. मोना कक्कर द्वारा व्याख्यान दिया गया| डॉ हिमांगी दुबे, सहायक आचार्य, पेरिओडोन्टिक्स  विभाग, सरस्वती डेंटल कॉलेज द्वारा जानकारी दी गयी कि गर्भावस्था  के दौरान माँ को मुख रोग होना ख़तरनाक साबित हो सकता है | इसकी वजह से  शिशु कमजोर, कम वजन वाला या अविकासित पैदा हो सकता है | मुख का रोग कई बार गर्भपात का  कारण बन सकता है | साथ ही गर्भवस्था के दौरान मुख का ख्याल रखने कि हिदायत दी |



        सरस्वती डेंटल कॉलेज और इनर व्हील क्लब ने इस  वर्ष "मिशन ममता " नामक आदर्श वाक्य के  साथ पर्यावरण के लिए  पेड़ लगाने के उद्देश्य से वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया |लोगो में  जागरूकता पैदा करने  के लिए सरस्वती डेंटल कॉलेज तथा बी ऐस ऍम  कॉलेज ऑफ़ नर्सिंग के छात्रों द्वारा पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता के साथ-साथ  मार्च पास कार्यक्रम का आयोजन किया गया |


        कार्यक्रम मे उपस्थित डॉ. आर एस बेदी प्रिंसिपल, डॉ. सौम्य नवित वाईस प्रिंसिपल, प्रेसिडेंट सरस्वती डेंटल कॉलेज डॉ. रजत माथुर, चेयरपर्सन श्रीमती मधु माथुर जी ने गर्भावस्था में मुख की स्वच्छता का महत्व समझाया तथा कार्यक्रम के उद्देश्य के महत्व को उजागर किया |
साभार


टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
आंचलिक पत्रकार और पत्रकारिता की गिरती साख- प्रेम श्रीवास्तव
हर महिला की लड़ाई, हमारी लड़ाई है- अल्का लांबा
चित्र
वर्तमान समय में आंखों का इलाज अत्याधुनिक हो चुका है डॉ अजय कुमार गर्ग
चित्र
नाक कान और गला शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंग है डॉक्टर अंशुल गर्ग
चित्र