RBI के बाद Paytm ने इस बैंक के ग्राहकों को दिया बड़ा झटका, बंद कर दीं ये सेवाएं

नई दिल्ली: आरबीआई (RBI) ने पिछले महीने पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक (PMC Bank) को एक नोटिस जारी उसके लेनदेन पर छह महीने के लिए प्रतिबंध लगा दिया था. आरबीआई के आदेश के बाद पीएमसी बैंक न तो कोई नया लोन जारी कर सकता है और न ही कोई ग्राहक 25,000 रुपये से अधिक निकाल सकता है. इस मामले में अब तक बैंक जुड़े 4 अधिकारियों की गिरफ्तारी हो चुकी है. इसी क्रम में अब मोबाइल पेमेंट कंपनी पेटीएम (Paytm) ने पीएमसी बैंक के ग्राहकों को बड़ा झटका दिया है.



पेटीएम ने पीएमसी बैंक के लाखों ग्राहकों को एक नोटिस जारी किया है. पेटीएम ने 4 अक्टूबर को एक ट्वीट कर उन लोगों को एक नोटिस दिया है, जिसमें पीएमसी बैंक के ग्राहकों ने पेटीएम के जरिए कोई निवेश किया है. पेटीएम मनी टीम के हवाले से मीडियम डॉट कॉम पर लिखे गए लेख में कहा कि 4 बिंदुओं के बारे में ग्राहकों को जानकारी दी गई है.


पेटीएम ने कहा है कि उसने पीएमसी बैंक से होने वाले सभी ऑटो पेमेंट सिस्टम को बंद कर दिया है. अब सिस्टेमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) का पेमेंट तय समय पर नहीं हो सकेगा.
पेटीएम ने कहा है कि उसने नेट बैंकिंग व यूपीआई (UPI) से होने वाला पेमेंट भी पीएमसी बैंक के ग्राहकों के लिए बंद कर दिया है.
पेटीएम ने अपने यूजर्स से अनुरोध किया है कि वे पीएमसी बैंक के अलावा किसी अन्य बैंक अकाउंट को अपने पेटीएम अकाउंट से लिंक करें. पेटीएम करीब 200 से अधिक बैंकों को सपोर्ट करता है. नए अकाउंट को 30 मिनट के अंदर ​वेरिफाई किया जाएगा.
पेटीएम यूजर्स नए बैंक को लिंक करने के बाद अपने एसआईपी व अन्य निवेश में पैसा डाल सकते हैं. वो नेट बैंकिंग व यूपीआई सेवा का भी लाभ ले सकते हैं.



बता दें कि पीएमसी बैंक घोटाले (PMC Bank Scam) में पुलिस ने HDIL के दो डायरेक्टर्स राकेश, सारंग वाधवान, प्रबंध निदेशक जॉय थॉमस और बैंक के चेयरमैन वरयाम सिंह को गिरफ्तार कर लिया है. वहीं, प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने 4,355 करोड़ रुपये के पंजाब और महाराष्ट्र सहकारी (पीएमसी) बैंक धोखाधड़ी मामले में मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज कर 12 महंगी कारों को जब्त किया है. इसमें दो रॉल्स रॉयस, दो रेंज रोवर और एक बेंटली शामिल है.


टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
संसद का शीतकालीन सत्र नहीं होगा, सरकार ने जनवरी में बजट सत्र बुलाने का सुझाव दिया
चित्र
मोदी खुद शहंशाह, मेरे भाई को शहजादा बोलते हैं: गुजरात में प्रियंका गांधी ने प्रधानमंत्री पर किया पलटवार
चित्र