मध्य प्रदेश: भोपाल में लॉकडाउन के दौरान बलात्कार, 17 साल की है पीड़िता


पीड़िता की शिकायत के अनुसार शनिवार रात को जब वह जेपी अस्पताल के पास अपने दोस्त के साथ जा रही थी, तब आरोपियों ने उसे जबरदस्ती कार में खींच लिया. आरोपी उसे शहर के भेल इलाके में एक सुनसान जगह पर ले गये और इनमें से एक व्यक्ति ने उसके साथ रेप (Rape) किया.


यह घटना इसलिए भी परेशान करने वाली है, क्योंकि शहर में पिछले पांच दिनों में ये बलात्कार की दूसरी घटना है। यह वारदात ऐसे समय में हुई है जब शहर में लागू लॉकडाउन के कारण चप्पे- चप्पे पर भारी पुलिस बल तैनात है।


इस मामले पर हबीबगंज पुलिस थाना प्रभारी राकेश श्रीवास्तव ने बताया, '17 साल की लड़की का शनिवार रात को अपहरण कर उसके साथ बलात्कार किया गया। इस मामले में हमने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इनमें एक 24 वर्षीय शफीक खान और दूसरा 22 वर्षीय आबिद खान है।' 


राकेश श्रीवास्तव ने कहा कि पीड़िता की शिकायत के मुताबिक शनिवार रात को जब वह जे पी अस्पताल के पास अपने दोस्त के साथ जा रही थी, तब आरोपियों ने उसे जबरदस्ती कार में खींच लिया। इसके बाद आरोपी उसे शहर के भेल इलाके में एक सुनसान जगह पर ले गये और इनमें से एक व्यक्ति ने उसके साथ बलात्कार किया।


थाना प्रभारी ने बताया कि वारदात के बाद आरोपियों ने उसे धमकी दी कि अगर उसने इस घटना के बारे में किसी को बताया तो उसे इसका अंजाम भुगतना पड़ेगा। बलात्कार के बाद आरोपी उसे वहां छोड़कर फरार हो गए।


थाना प्रभारी ने कहा कि पीड़िता वहां से वापस आई और अपने दोस्त को इस घटना की जानकारी दी। इसके बाद दोस्त ने उसे धैर्य बंधाया, जिसके बाद पीड़िता में शिकायत करने का साहस आया और उसने जहांगीराबाद पुलिस थाना में शिकायत दर्ज करवाई।


थाना प्रभारी ने बताया, 'अगले दिन इस मामले को जहांगीराबाद पुलिस थाने से हबीबगंज पुलिस थाने में ट्रांसफर किया गया। हबीबगंज पुलिस ने पीड़ित लड़की का बयान ले कर आरोपियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है।' उन्होंने कहा कि मामले की विस्तृत जांच जारी है।


थाना प्रभारी ने इस दौरान बताया कि पीड़िता कुछ साल पहले मां का निधन होने के बाद से अपनी नानी के साथ शहर की एक झुग्गी बस्ती में रह रही है।


पुलिस ने पीड़ित लड़की का बयान लेकर आरोपियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है.' मामले की विस्तृत जांच जारी है. कुछ साल पहले मां का निधन होने के बाद से पीड़िता अपनी नानी के साथ शहर की एक झुग्गी बस्ती में रह रही है.


 


टिप्पणियाँ