राष्ट्रधर्म सबसे श्रेष्ठ- दीपक अग्रवाल
 
दीपक अग्रवाल

हिंदी दैनिक आज का मतदाता गाजियाबाद जीटी रोड स्थित एकता डिस्ट्रीब्यूटर के डायरेक्टर युवा, खुशमिजाज एवं प्रतिभावान व्यवसाई जो अपनी दूरदर्शिता से अपने पूजनीय  माता पिता के सपनों को धीरे-धीरे साकार कर के एक बेहतरीन उदाहरण समाज में स्थापित कर रहे हैं ,एक संक्षिप्त भेंटवार्ता के अंतर्गत बताया कि आज हम सभी के लिए आवश्यक है कि हम सभी धर्मों का आदर व सम्मान करें ,यह हमारी संस्कृति है, हमारी विरासत है ,लेकिन हम सभी देशवासियों को राष्ट्र धर्म को सबसे श्रेष्ठ मानना चाहिए क्योंकि राष्ट्र ही सर्वोपरि होता है। राष्ट्र है तो हम हैं, हम हैं तो, समाज है और समाज है, तो संस्कार है। दीपक अग्रवाल ने कहा कि 2 वर्षों से व्यवसायिक गतिविधियों के साथ-साथ विकास की सारी गतिविधियों में मानव जीवन भय से ग्रसित हो गया है, मानवीय संवेदनाएं भी काफी हद तक प्रभावित हुए हैं करोना काल में मानव श्रेष्ठ भी हुआ है और अपनी कमजोरियों को भी जग जाहिर किया है, जो कि एक सामाजिक ढांचे के लिए प्रश्न चिन्ह है। दीपक अग्रवाल ने कहा कि एकजुटता, समर्पण और निस्वार्थ अपना कर्तव्य हमें श्रेष्ठ बना सकता है, इसलिए हम सभी को इस मार्ग पर रहते हुए व्यवसाय, सामाजिक जीवन एवं  अपने दार्शनिक सोच को आगे बढ़ाते हुए राष्ट्रप्रेम को श्रेष्ठ समझना  है और संपूर्ण आस्था भी रखनी है।

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
स्वास्थ्य के प्रति हमेशा सजग रहे डॉक्टर नीतिका शुक्ला
चित्र
पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के साथ विकसित होने वाले औद्योगिक क्लस्टर के माध्यम से बड़ी संख्या में रोजगार के अवसर भी उपलब्ध होंगे
चित्र
पीएम मोदी का रोड शो, 400 पार के नारे से गूंजा गाजियाबाद
चित्र
कोरोना वायरस: भारत में 1.56 लाख से अधिक की मौत, विश्व में मृतक संख्या 25 लाख के पार
चित्र