मिहिर सेना गाजियाबाद का भविष्य उज्जवल बनाएगी, विवेक पारुथी,

 

विवेक पारुथी,

हिंदी दैनिक आज का मतदाता गाजियाबाद, आगामी 2022 विधानसभा चुनाव में मिहिर सेना के गाजियाबाद शहर के सशक्त उम्मीदवार विवेक पारुथी ने एक वार्ता के अंतर्गत कहां की अभी तक जितने भी राजनीतिक पार्टी के सांसद या विधायक हुए हैं उन्होंने गाजियाबाद में अभी तक कोई भी ऐसा विकास का कार्य नहीं किया है जिसे जनता याद कर सके कुछ दिन पूर्व गाजियाबाद को स्मार्ट सिटी में सम्मिलित करने की योजना बनाई गई थी लेकिन वह भी केवल ख्याली पुलाव था ,अखबारों की सुर्खियां बटोरने के लिए था ,आज गाजियाबाद 21वीं सदी की सबसे पुरानी उद्योग नगरी होने के बाद भी विकास के लिए तरस रही है। गाजियाबाद में अभी तक बहुत सारी सुविधाएं जो नागरिकों को मिलनी चाहिए वह उपलब्ध नहीं है सबसे बड़ी बात है कि गाजियाबाद में पब्लिक ट्रांसपोर्ट नहीं है जो  अपने आप में एक अजूबा है ,विवेक पारुथी ने कहा कि गाजियाबाद केवल अभी तक ठगा गया है ,उसे राजनीतिक दल के विधायक, सांसद सभी ने वोट हासिल करने का एक सफल प्रयोग माना है, जिसके द्वारा राजनैतिक दल  चुनाव तो जीत जाते हैं लेकिन कोई भी विकास कार्य नहीं करते, आज किसी भी राजनीतिक पार्टी के वरिष्ठ नेता के पास कोई ऐसी सूची नहीं है जो यह बता सके कि वह चुनाव जीतने के उपरांत गाजियाबाद में कौन-कौन से विकास कार्य किए ,हमारा गाजियाबाद इस मामले में सौभाग्यशाली नहीं बन पाया। विवेक पारुथी ने कहा मैं संकल्प के साथ जनमानस को वचन देता हूं कि चुनाव जीतने के बाद हमारी घोषणा पत्र में जितने भी विकास के मुद्दे होंगे वह समय और तारीख के हिसाब से पूरे होंगे जिससे कि मैं जनता के बीच में जाकर उनके भविष्य के प्रति अपनी सही सोच को साबित कर पाऊंगा ,अंत में एक सवाल के जवाब में आप ने कहा कि गाजियाबाद अब अन्य पार्टियों के द्वारा नहीं ठगा जाएगा अब  जनता ने मिहिर सेना को अपना नेतृत्व देने के लिए तैयार हो गई है और मुझे उम्मीद है कि 2022 चुनाव में गाजियाबाद के सभी सीटों से मिहिर सेना चुनाव जीतेगी और गाजियाबाद का चौमुखी विकास करेगी।

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
ईद उल अजहा की पुरखुलूस मुबारकबाद -अजय गुप्ता महासचिव केमिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन
चित्र