सरकार व्यापारिक गतिविधियों को और अधिक प्राथमिकता दे अधिवक्ता - अमित जैन

 

अमित जैन

हिंदी दैनिक आज का मतदाता गाजियाबाद वरिष्ठ टैक्स अधिवक्ता अमित जैन ने एक संक्षिप्त वार्ता के अंतर्गत कहा कि तकरीबन 2 वर्षों से भारत देश का हर नागरिक करोना जैसी दैविक आपदा से ग्रस्त है और अपनी शारीरिक ,मानसिक,  और पारिवारिक समस्याओं से काफी हद तक जूझ रहा है अमित जैन ने कहा कि करोना  काल में लॉकडाउन के दौरान व्यापारिक गतिविधियां ठप हो गई थी यही नहीं अभी भी व्यापारिक गतिविधियां सामान्य रूप से संचालित नहीं हो पाई है, आपने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार ऐसी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाएं जो करोना काल में काफी हद तक आपदा से ग्रसित होकर, नुकसान जान और माल का झेला है ,सरकार उन्हें दोबारा मजबूती से आर्थिक मदद करें ।अमित जैन ने कहा कि जो कि मैं टैक्स अधिवक्ता हूं और ज्यादातर व्यापारियों की कार्यशैली और उनकी व्यापारी गतिविधियों से मैं परिचित हूं इसलिए मैं यह कहने में बिल्कुल संकोच नहीं करूंगा की व्यापारिक वस्तुओं का जैसे खाद्य सामग्री ,ऑटो सेक्टर के साथ साथ अनगिनत उपभोक्ता सामग्री का निर्माण ,बिक्री काफी हद तक नीचे गिरा है और कुछ व्यापारिक घराने , व्यक्ति ,परिवार और कंपनियां करोना जैसी दैविक आपदा की शिकार हुई है जिसे पुनः खड़ा करना सरकार की प्रारंभिक जिम्मेदारी बनती है। अमित जैन ने कहा कि जीएसटी आज की सबसे बड़ी पारदर्शिता की एक व्यवस्था है जिसके अंतर्गत जीएसटी अधिकारी और व्यापारी दोनों में सामंजस्य बहुत आवश्यक है लेकिन अभी भी व्यापारी जीएसटी को लेकर काफी अनभिज्ञ और सरकार व्यापारी की सोच को जीएसटी के प्रति सकारात्मक नहीं कर पाई जो की  आज बहुत जरूरी है ।आज बहुत जरूरी है की  जीएसटी इकाई के सारे अधिकारी और सरकार, व्यापारी को एक अच्छे दृष्टिकोण से देखें उसे देश के राज्य के लिए वह महत्वपूर्ण अंग माने जिसके लिए वह हकदार है ,अमित जैन ने कहा कि शीघ्र से शीघ्र जीएसटी ट्रिब्यूनल का गठन होना चाहिए जिससे कि लंबित विवाद का निपटारा हो और व्यापारियों का लाभ हो जिससे व्यापारी गतिविधियों को और मजबूती मिले। अमित जैन ने जीएसटी से संबंधित एक अन्य बहुत बड़ी मांग के बारे में अपनी बात रखते हुए कहा कि सरकार शीघ्र शीघ्र मानवीय भूल को सर्वोपरि रखते हुए जीएसटी में रिटर्न दाखिल करने में रिवाइज्ड रिटर्न की व्यवस्था करें जिससे कि व्यापारी और कर अधिवक्ता अपनी मानवीय भूल को सुधार कर ,कर प्रणाली में अपनी योगदान को और बेहतर बना सकें

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
ईद उल अजहा की पुरखुलूस मुबारकबाद -अजय गुप्ता महासचिव केमिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन
चित्र