कर्नाटक : BJP ने प्राचीन हिंदू मंदिर किया ध्वस्त, नितिन राउत बोले- अब भाजपाई कहां हैं? विरोध नहीं करोगे

 


महाराष्ट्र में धार्मिक स्थलों को खासतौर पर मंदिरों को ना खोले जाने पर भाजपा और भाजपा समर्थकों द्वारा विरोध किया जा रहा है।


 
राज्य में सत्तारूढ़ ठाकरे सरकार पर आरोप लगाए जा रहे हैं कि वो जानबूझकर धार्मिक स्थल खोलने की अनुमति नहीं दे रही। इस मामले में सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने भी आंदोलन करने का ऐलान किया था।


 इसी बीच खबर सामने आई है कि कर्नाटक में भाजपा सरकार द्वारा दी गई अनुमति के बाद एक प्राचीन मंदिर को गिरा दिया गया है। जिसकी वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल भी हो रही है।

इस वीडियो में देखा जा सकता है कि मंदिर को ढहा दिया गया। लेकिन भाजपा शासित राज्य में मंदिर को तोड़े जाने की खबर को किसी भी न्यूज़ चैनल पर दिखाया नहीं गया है। ना ही किसी हिंदूवादी संगठन के कार्यकर्ताओं ने इसका विरोध किया।

वहीं अगर किसी गैर भाजपा शासित राज्य में इस तरह से मंदिर को गिराया गया होता। तो अब तक राज्य सरकार के खिलाफ हिंदूवादी संगठनों ने मोर्चा खोल दिया होता।

इस मामले में कांग्रेस नेता डॉ नितिन राउत ने कर्नाटक की भाजपा सरकार पर हमला बोला है।

उन्होंने मंदिर को गिराए जाने की वीडियो को अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट पर शेयर कर लिखा है कि

कर्नाटक के मैसूर जिले में स्थित एक प्राचीन हिन्दू मंदिर को राज्य की भाजपा सरकार ने ध्वस्त कर दिया।

महाराष्ट्र में कोरोना संकट के बीच मंदिर खोलने के लिए आंदोलन करने वाले भाजपाईयों को ये नहीं दिखेगा। क्योंकि उनका विरोध सेलेक्टिव है।

 

आपको बता दें कि मैसूर जिले में स्थित इस प्राचीन मंदिर से जुड़ी कोई जानकारी अभी तक सामने नहीं आई है। ना ही इस मंदिर का नाम पता चल पाया है।

लेकिन सोशल मीडिया पर कांग्रेस नेता द्वारा शेयर की गई इस जानकारी से पता चल पाया है कि मैसूर में इस मंदिर को ध्वस्त किया गया है।

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
ईद उल अजहा की पुरखुलूस मुबारकबाद -अजय गुप्ता महासचिव केमिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन
चित्र