पब्लिक ट्रांसपोर्ट मिहिर सेना की प्राथमिकता होगी, विवेक पारुथी

 

विवेक पारुथी 

हिंदी दैनिक आज का मतदाता गाजियाबाद  मिहिर सेना,शहर विधानसभा प्रत्याशी 2022 विवेक पारूथी ने एक संक्षिप्त वार्ता के अंतर्गत कहा कि गाजियाबाद शहर बहुत ही पुराना शहर है इसका निर्माण हुए तकरीबन तीन दशक से भी ऊपर का वक्त बीत चुका है और यह दिल्ली और नोएडा के बीच की धुरी है उसके बावजूद भी गाजियाबाद शहर में पब्लिक ट्रांसपोर्ट की कोई भी सुविधा नहीं है जो  अपने आप में एक बहुत बड़ी विडंबना है, पब्लिक ट्रांसपोर्ट शहर की वह कड़ी होती है जिससे प्रदूषण की बचत के साथ-साथ कम खर्चों में आम नागरिक आवागमन को प्राथमिकता देता है, 


 सबसे बड़ी बात यह है कि एक पब्लिक ट्रांसपोर्ट से जहां 40 व्यक्ति एक स्थान से दूसरे स्थान तक जाएंगे वहीं पर 10 ऑटो रिक्शा का प्रयोग होगा, आपने कहा कि वर्तमान गाजियाबाद में चल रहे हैं ऑटो रिक्शा और विक्रम जिनकी फिटनेस ठीक नहीं है और जो बहुत ज्यादा वातावरण को प्रदूषित करते हैं उन पर  तत्काल प्रभाव से लगाम लगनी  चाहिए, आप ने कहा की आगामी विधानसभा चुनाव में जनता का आशीर्वाद मिलने के उपरांत शीघ्र से शीघ्र गाजियाबाद के सभी क्षेत्रों में पब्लिक ट्रांसपोर्ट सिस्टम को लागू किया जाएगा और  आम नागरिकों पर पड़ने वाली खर्च के बोझ को कम किया जाएगा। विवेक पारुथी ने  गाजियाबाद की क्षेत्रफल और कार्यशैली तथा उत्पादन क्षमता को देखते हुए कहा की यह  प्रदेश का पहला ऐसा जिला है जो प्रदेश में सबसे अधिक राजस्व देता है उसके बाद भी सरकार और प्रशासन इस जिले में अर्जित राजस्व की अनुपात में बहुत कम पैसा गाजियाबाद क्षेत्र के विकास के लिए खर्च करता है , जो की चिंता का विषय है, विवेक पारुथी ने कहा की मैं पूरी  निष्ठा और विश्वास के साथ  अपनी बात रखते हुए कह रहा हु , कि मिहिर सेना  शहर और पूरे गाजियाबाद जिले में पब्लिक ट्रांसपोर्ट की अत्याधुनिक व्यवस्था को अमलीजामा पहनआएगा, और ट्रांसपोर्ट सिस्टम  से  आम  नागरिकों के लिए एक पब्लिक ट्रांसपोर्ट की ऐसी व्यवस्था का उदाहरण पेश करेगा जो नागरिकों के साथ साथ व्यापारिक गतिविधियों में भी बेहतर साबित होगी।

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
ईद उल अजहा की पुरखुलूस मुबारकबाद -अजय गुप्ता महासचिव केमिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन
चित्र