इस्तीफा देने के बाद सिद्धू का पहला बयान, कहा- दागियों को पहरेदार नहीं बनाया जा सकता

 

चण्डीगढ़: पंजाब के कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू वीडियो के माध्यम से पहला बयान जारी किया है. सिद्धू ने कहा कि दागियों को पहरेदार नहीं बनाया जा सकता. पंजाब के लिए हक और सच की लड़ाई आखिरी दम तक लड़ता रहूंगा. सिद्धू ने एक वीडियो ट्वीट किया है जिसमें उन्होंने कहा कि वो आलाकमान को गुमराह नहीं कर रहे.

सिद्धू ने कहा, ‘मैं पंजाब से जुड़े मुद्दों के लिए लंबे समय तक लड़ता रहा. यहां पहले दागी नेताओं और अधिकारियों की मौजूदगी थी. अब आप उसी प्रकार के व्यवस्था को दोबारा नहीं दोहरा सकते. पंजाब के लोगों के लिए मैं किसी भी चीज की कुर्बानी देने के लिए तैयार हूं. लेकिन मैं अपने सिद्धांतों पर कायम रहूंगा.’

उन्होंने कहा, नैतिकता से किसी तरह का समझौता नहीं करूंगा. सिद्धू ने कहा, ‘मेरी किसी से कोई निजी लड़ाई नहीं है. मेरी लड़ाई मुद्दों की है, पंजाब के एजेंडे की है.’ सिद्धू बोले सिस्टम में गड़बड़ी आज भी बर्दाश्त नहीं है और गड़बड़ी फैलाने वालों को पहरेदार नहीं बना सकते. उन्होंने कहा कि सच के लिए लड़ा हूं और वादा है लड़ता रहूंगा.

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
ईद उल अजहा की पुरखुलूस मुबारकबाद -अजय गुप्ता महासचिव केमिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन
चित्र