बेघरों को मिला घर, खिली मुस्‍कान… बोले धन्‍यवाद योगी जी

 


हर गरीब का अपने घर का सपना सरकार ने किया साकार

4.5 सालों में 43 लाख से अधिक गरीबों का पूरा हुआ अपने आशियाने का सपना 


लखनऊ,: बरसों से बेघर शाहजहांपुर निवासी नेत्रपाल की आंखों में खुशी के आंसू थे. एक अपने घर की आस जो बरसों से पूरी नहीं हो सकी थी, उसे योगी सरकार ने पूरा कर दिया. नेत्रपाल ने कहा कि हर गरीब का एक अपने घर का सपना होता है, जो आज पूरा हो गया. नेत्रपाल उन 43 लाख गरीब और बेसहारा लोगों में से एक हैं, जिनके अपने आशियाने का सपना सरकारी आवास योजनाओं के जरिए योगी सरकार ने पूरा किया है.

शाहजहांपुर के ग्राम गुर्रा भभौली निवासी किसान नेत्रपाल के पास रहने के लिए योग्‍य मकान नहीं था. परिवार के चार सदस्‍यों के साथ वह बहुत ही दयनीय स्थिति में टूटे मकान में जीवनयापन कर रहे थे. 2019 में उनके इस टूटे घर में आग भी लग गई और वह बेघर हो गए. अधिकारियों से सम्‍पर्क के बाद उन्‍हें मुख्‍यमंत्री आवास योजना की जानकारी हुई. मार्च 2020 में उन्हें मुख्यमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत एक घर आवंटित किया गया, जिसमें वह अपने परिवार के साथ रह रहे हैं. नेत्रपाल ने कहा कि वह प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के बहुत आभारी हैं, जिन्‍होंने गरीबों के घर के सपने को पूरा करने का काम किया है.

कभी सोचा नहीं था कि अपना भी एक घर होगा

Advertisement

वाराणसी के काशीपुर गांव देल्हाना निवासी नगीना देवी की कहानी भी कुछ ऐसी ही है. दिहाड़ी मजदूरी करने वाली नगीना को दो वक्‍त की रोटी जुटाने में पसीने छूट जाते थे. ऐसे में उनके लिए अपने घर का सपना असंभव ही था. झोपड़ी में परिवार के साथ रहने वाली नगीना देवी के पास आज सरकार का दिया मकान है. नगीना देवी ने बताया कभी सोचा ही नहीं था कि कभी उनका भी एक घर हो पाएगा. नगीना देवी को प्रधानमंत्री आवास योजना की जानकारी हुई. सरकार की ओर से उनको इस योजना के तहत एक मकान एलॉट किया गया. अब वह झोपड़ी के बजाए पक्‍के मकान में रह रही हैं.

गरीबों के घर का सपना किया पूरा

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने साढ़े चार साल में गरीबों के घर का सपना पूरा करने का काम किया है. यूपी में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 42 लाख घरों का निर्माण किया गया है जबकि मुख्‍यमंत्री आवास योजना के तहत 1,08,495 से अधिक घरों का निर्माण हुआ है. ग्रामीण परिवेश के लोगों के साथ मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने वनटांगिया और मुसहर समुदाय के लोगों के जीवन स्‍तर को ऊपर उठाने का काम किया है. सरकार ने वनटांगिया गांवों को राजस्‍व गांव का दर्जा दिया. वनटांगिया समुदाय के लोगों को 4602 मकान देकर उनके जीवन में सुधार किया है. वहीं, भूख, कुपोषण और उपेक्षा का दंश झेल रहे मुसहर समुदाय को 28295 आवास उपलब्‍ध कराएं.

Advertisement

पहले सत्‍ता में बैठे लोग अपने घर बनाते थे, अब गरीबों के बन रहे

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने रविवार को सरकार के साढ़े चार साल पूरे होने पर कहा था कि पहले सत्‍ता में शीर्ष पर बैठे लोग अपनी हवेलियां तैयार करने में जुटे थे. उनको गरीबों की कोई फिक्र नहीं थी. लेकिन अब गरीबों को पारदर्शिता के साथ सिर छुपाने के लिए पक्‍के मकान दिए जा रहे हैं. प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत गरीबों को 42 लाख से अधिक आवास दिए जा चुके हैं.

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
संसद का शीतकालीन सत्र नहीं होगा, सरकार ने जनवरी में बजट सत्र बुलाने का सुझाव दिया
चित्र
मोदी खुद शहंशाह, मेरे भाई को शहजादा बोलते हैं: गुजरात में प्रियंका गांधी ने प्रधानमंत्री पर किया पलटवार
चित्र