बेरोजगार युवकों ने योगी का किया विरोध, पूछा- नौकरी कब दोगे? पूर्व IAS बोले- इनका भी घर गिराया जाएगा?

भाजपा शासित उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ योगी सरकार के खिलाफ राज्य के युवा लगातार बेरोजगारी के मुद्दे पर मोर्चा खोले हुए हैं।

यूपी पुलिस द्वारा कई बार छात्रों पर लाठीचार्ज किया गया तो कई छात्रों को गिरफ्तार किया गया। जिसका विपक्षी दलों और आम जनता द्वारा काफी विरोध भी हुआ।


उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए राजनीतिक दलों द्वारा भी योगी सरकार को बेरोजगारी और बिगड़ चुकी कानून व्यवस्था पर घेरा जा रहा है।कल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने गृह जनपद गोरखपुर के दौरे पर पहुंचे थे। जहां उन्होंने बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया।

इसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किसान इंटर कॉलेज में पत्रकारों से बातचीत की। इसी दौरान कुछ युवाओं ने बेरोजगारी के मुद्दे पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का विरोध किया।

इस मामले में रिटायर्ड आईएएस अफसर सूर्य प्रताप सिंह ने भाजपा सरकार पर हमला बोला है।

उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि “योगी जी का अपने गृह जनपद में ये हाल? बेरोजगार युवकों के सवालों का सामना करने में डर लगता है महाराज?शायद गोदी मीडिया के रटे रटाए सवालों का जवाब देने की आदत हो गयी है। अब क्या इन छात्रों पर मुक़दमा होगा? राजद्रोह लगेगा? या इन्हें गैंगस्टर घोषित कर इनका घर गिरा दिया जाएगा?

 

दरअसल सोशल मीडिया पर इसकी एक वीडियो वायरल हो रही है। जिसमें देखा जा सकता है कि योगी आदित्यनाथ किसान इंटर कॉलेज में मीडिया से बातचीत करने के बाद वहां से जा रहे थे। इस दौरान युवाओं ने उनसे पूछा कि मुख्यमंत्री जी यह भी बताते जाइए की भर्ती कब होगी?

बताया जाता है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर में जनता दरबार भी लगाया था। जहां पर लोगों की समस्याएं सुनी गई।

लेकिन रोजगार की मांग कर रहे युवाओं की फरियाद को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ यूं ही नजरअंदाज करके आगे निकल गए।

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
संसद का शीतकालीन सत्र नहीं होगा, सरकार ने जनवरी में बजट सत्र बुलाने का सुझाव दिया
चित्र
मोदी खुद शहंशाह, मेरे भाई को शहजादा बोलते हैं: गुजरात में प्रियंका गांधी ने प्रधानमंत्री पर किया पलटवार
चित्र