पांच अक्टूबर को मिल सकती है कोवैक्सीन को डब्ल्यूएचओ की मंजूरी

 

 नई दिल्ली: भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को लेकर डब्ल्यूएचओ की मंजूरी का इंतजार खत्म होने जा रहा है. 29 सितंबर को जारी किए गए आधिकारिक दस्तावेजों के मुताबिक, कोवैक्सिन के लिए फाइनल अप्रूवल 5 अक्टूबर को मिल सकता है.

अक्टूबर में इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए डब्ल्यूएचओ की मंजूरी के सिलसिले में स्ट्रैटेजिक एडवाइजरी ग्रुप ऑफ एक्सपर्ट्स की बैठक होने वाली है. यह बैठक पांच अक्टूबर को तय की गई है और उम्मीद जताई जा रही है कि इस बैठक में भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को विश्व स्वास्थ्य संगठन की ओर से हरी झंडी दी जा सकती है.

जान लें कि स्ट्रैटेजिक एडवाइजरी ग्रुप ऑफ एक्सपर्ट्स की ये बैठक कोवैक्सिन को अंतिम मंजूरी देने के लिए ही होगी. ये मीटिंग डेढ़ घंटे तक चलेगी. भारतीय समय के अनुसार, स्ट्रैटेजिक एडवाइजरी ग्रुप ऑफ एक्सपर्ट्स की कोवैक्सिन को डब्ल्यूएचओ की मंजूरी देने पर बैठक 4 बजकर 45 मिनट पर शुरू होगी. बैठक में ‘स्ट्रैटेजिक एडवाइजरी ग्रुप ऑफ एक्सपर्ट्स’ के वैज्ञानिकों के अलावा भारत बायोटेक के प्रतिनिधि भी मौजूद रहेंगे.


 गौरतलब है कि बैठक में कोवैक्सीन के भारत में हुए ट्रायल के डेटा के आधार पर उसके सुरक्षित और प्रभावी होने पर चर्चा होगी. जिसके बाद कोवैक्सीन को मंजूरी देने पर कोई अंतिम फैसला विश्व स्वास्थ संगठन करेगा.

वहीं भारत बायोटेक का कहना है कि उन्होंने कोवैक्सिन की मंजूरी के लिए आवश्यक सभी डेटा पहले ही जमा कर दिए हैं. हालांकि यह एक नियमित प्रक्रिया है फिलहाल इस मामले में कोई चिंता की बात नहीं है.

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
ईद उल अजहा की पुरखुलूस मुबारकबाद -अजय गुप्ता महासचिव केमिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन
चित्र