सीएम योगी के गढ़ में प्रियंका की प्रतिज्ञा रैली कल, भाजपा को सत्ता से बेदखल करने का होगा ऐलान

 


लखनऊ : प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की वापसी की प्रतिज्ञा ले चुकीं पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी लगातार प्रदेश को मथ रही हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गढ़ वाराणसी में रैली के बाद उनके निशाने पर सीएम योगी का गढ़ गोरखपुर है। प्रियंका गांधी गोरखपुर में रविवार को रैली करेंगी। योगी आदित्यनाथ को सत्ता से बेदखल करने की हुंकार भरने के लिए प्रियंका गांधी ऐसे दिन गोरखपुर में रैली करने जा रही हैं जब देश में पूर्व प्रधानमंत्री और उनकी दादी इंदिरा गांधी की पुण्यतिथि मनाई जा रही होगी। 31 अक्टूबर 1984 को ही इंदिरा गांधी की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

प्रतिज्ञा यात्राओं के साथ ही कांग्रेस प्रतिज्ञा रैली भी करेगी। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने जनता के बीच इसकी घोषणा के लिए यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का गृह जनपद गोरखपुर चुना है। यहां के चंपा देवी पार्क में प्रियंका की रैली की सभी तैयारियां पूरी की जा चुकी हैं।

अब यूपी विधानसभा चुनाव में जाने से पहले जन समर्थन जुटाने और कांग्रेस का विजन बताने के लिए चल रही प्रतिज्ञा यात्रा की पहली रैली गोरखपुर में होगी। इस दौरान प्रियंका आठ प्रतिज्ञाएं जनता के सामने रखेंगी। यूं तो पहले ही प्रियंका इनके बारे में साफ कर चुकी हैं और यही प्रतिज्ञाएं जनता के बीच पहुंचाने के लिए यात्रा चल रही है। हालांकि, प्रियंका योगी के गढ़ में जब इन प्रतिज्ञाओं को दोहराएंगी, तो इसका अलग संदेश जाने की उम्मीद है।

वाराणसी की रैली और वहां उमड़ी भारी भीड़ से प्रियंका गांधी उत्साहित हैं। प्रदेश अध्यक्ष अजय लल्लू ने कहा कि गोरखपुर में प्रियंका गांधी की रैली ऐतिहासिक होगी। आसपास के लोगों में रैली को लेकर जबरदस्त उत्साह दिख रहा है। जनता बदलाव को तैयार है।

 


लखीमपुर खीरी कांड के बाद से कांग्रेस ने किसानों को भी अपने पाले में करने की जोरदार तैयारी कर रखी है। प्रियंका गांधी की रैली में बड़ी संख्या में किसानों को भी लाने की तैयारी की जा रही है। आसपास के जिलों से किसानों को लाया जाएगा। देवरिया से ही पांच हजार किसान आएंगे। जिला कांग्रेस कार्यालय पर उत्तर प्रदेश किसान कांग्रेस पूर्वी जोन के चेयरमैन सुयश मणि त्रिपाठी, प्रदेश सचिव संदेश यादव व किसान कांग्रेस जिलाध्यक्ष जय प्रकाश पाल धनगर ने बताया कि इसके लिए कांग्रेसी किसानों को जागरूक कर रहे हैं और किसानों में भी रैली को लेकर उत्साह है।

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
राज्यपाल अनंदीबेन पटेल से से प्रशिक्षु IAS अफ़सरों नज की मुलाक़ात !!
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
गोवंश का संरक्षण एवं संवर्द्धन राज्य सरकार की प्राथमिकता - धर्मपाल सिंह
चित्र