प्रियंका गांधी का केंद्र पर तंज, ‘हवाई चप्पल वालों का सड़क पर सफर करना मुश्किल’

 


नई दिल्ली, : देशभर में पेट्रोल-डीजल के दाम अपने उच्च स्तर पर पहुंच गए हैं इसको लेकर कांग्रेस भी बीजेपी सरकार पर हमलावर है. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि ‘वादा किया था कि हवाई चप्पल वाले हवाई जहाज से सफर करेंगे, लेकिन भाजपा सरकार ने पेट्रोल-डीजल के दाम इतने बढ़ा दिए कि अब हवाई चप्पल वालों और मध्यम वर्ग का सड़क पर सफर करना भी मुश्किल हो गया है.’

प्रियंका गांधी ने ट्वीट में भाजपा लाई महंगे दिन हैशटैग भी इस्तेमाल किया है, इसके साथ ही प्रियंका गांधी ने अपने ट्वीट में एक मीडिया रिपोर्ट का भी जिक्र किया है. इस रिपोर्ट में लिखा है कि विमान के ईंधन से 30 फीसदी महंगा हुआ पेट्रोल.
इससे पहले भी प्रियंका गांधी ने पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर सरकार को कटघरे में खड़ा किया था. भारतीय जनता पार्टी ने एनपीके (उर्वरक) की कीमत में 275 रुपये और एनपी (उर्वरक) की कीमत में 20 रुपये की बढ़ोतरी की है. उन्होंने ट्वीट किया था, ”दैनिक बढ़ोतरी के साथ सरकार ने डीजल की कीमतों को 100 रुपये के पार कर दिया है. भाजपा शासन के तहत, कार्यकर्ता और किसान बढ़ती कीमतों के बोझ से दबे हैं, जबकि केवल मोदी के दोस्त ही अमीर हो रहे हैं.

 


इससे पहले राहुल गांधी ने भी महंगाई को लेकर सरकार को घेरने की कोशिश की थी. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर लिखा था”सभी के लिए विनाश” और ”बढ़ती कीमतों” का विकास है. राहुल गांधी ने ट्विटर पर रिपोर्ट को टैग किया, जिसमें दावा किया गया है कि अगर सरकार ने करों में वृद्धि नहीं की होती तो पेट्रोल 66 रुपये प्रति लीटर होता और डीजल 55 रुपये प्रति लीटर होता. गांधी ने आरोप लगाया कि सरकार ”कर उगाही” में लिप्त है. गांधी ने ‘टैक्स एक्सटॉर्शन’ हैशटैग का इस्तेमाल करते हुए हिंदी में ट्वीट किया, ”सबका विनाश, महंगाई का विकास.”

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
ईद उल अजहा की पुरखुलूस मुबारकबाद -अजय गुप्ता महासचिव केमिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन
चित्र