प्रशासनिक लापरवाही के चलते खाद की किल्लत, अब तक तीन किसानों की मौत

 


ललितपुर, : बुन्देलखण्ड के ललितपुर में खाद को लेकर हालात खराब ही होते जा रहे हैं. पिछले एक हफ्ते से जिले में खाद की किल्लत जारी है जिसकी वजह से किसानों को खासा परेशानियों का सामना करना पद रहा है. इस बीच मंगलवार को लाइन में लगे एक किसान की हार्ट अटैक से मौत हो गई तो वहीं एक किसान ने फांसी लगाकर जान दे दिया. परिजनों की माने तो मृतक दोनों किसान खाद के लिए परेशान थे. एक किसान की तो जेब से आधार कार्ड और खेत की नकल भी बरामद हुई है. जिले में महज एक सप्ताह के भीतर तीन किसानों की खाद की किल्लत के चलते मौत होने से किसानों में भारी रोष देखा जा रहा है.

 मायावती ने किया ट्वीट-अति दु:खद व गम्भीर समस्या, सरकार तुरन्त करेे समाधान
बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट कर किसानों की मौत को दुर्भाग्यपूर्ण बताया. उन्होंने लिखा, पूरे यूपी में व खासकर बुन्देलखण्ड क्षेत्र में सरकार किसानों को समय से खाद्य उपलब्ध नहीं करा पा रही है. जिससे पूरे दिनभर लाइन में लगे कई किसानों की मृत्यु हो गई तथा काफी बीमार भी हो गये. इस अति दु:खद व चिन्तनीय गम्भीर समस्या का सरकार तुरन्त समाधान करेे. बीएसपी की यह मांग.

टिप्पणियाँ