कांग्रेस छोड़कर भाजपा में गए नेता बोले- मैं भाजपा में हूं इसलिए चैन से हूं, छापे नहीं पड़ रहे हैं

 

महाराष्ट्र सरकार में सहयोगी दल नेशनल कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार ने भारतीय जनता पार्टी पर जांच एजेंसियों का गलत इस्तेमाल कर विपक्षी पार्टियों के नेताओं को निशाना बनाने का आरोप लगाया है।

उन्होंने महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री अनिल देशमुख के घर पर पांचवी बार छापेमारी का मुद्दा उठाते हुए यह बातें कही है।इसी बीच भारतीय जनता पार्टी के नेता हर्षवर्धन पाटिल ने एक बड़ा बयान दे डाला है। जिसकी वजह से वह चर्चा में आ गए हैं।

भाजपा नेता हर्षवर्धन पाटिल ने कहा है कि वह भाजपा में है। इसलिए चैन की नींद सो पा रहे हैं क्योंकि कोई पूछताछ नहीं हो रही।

भाजपा नेता हर्षवर्धन पाटिल पुणे जिले की इंदापुर सीट से कांग्रेस विधायक रह चुके हैं। लेकिन साल 2019 में हुए महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले वह कांग्रेश छोड़ कर भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए थे।


महाराष्ट्र के पुणे के मावल में ही आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान भाजपा नेता ने कहा कि हमें भी भारतीय जनता पार्टी में शामिल होना पड़ा था। मुझसे पूछा जा रहा था कि मैं भाजपा में क्यों चला गया?

मैं भाजपा में गया। तो अब सब कुछ अच्छा और शांतिपूर्वक चल रहा है। मैं चैन की नींद ले पा रहा हूं क्योंकि किसी भी तरह की कोई पूछताछ नहीं चल रही।

आपको बता दें कि भाजपा नेता हर्षवर्धन पाटिल के इस बयान को एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार के बयान से जोड़कर देखा जा रहा है।

एनसीपी अध्यक्ष ने यह भी कहा था कि भारतीय जनता पार्टी जांच एजेंसियों का दुरूपयोग कर महाराष्ट्र की सरकार को अस्थिर करने की कोशिश भी कर रही है।

गौरतलब है कि विपक्षी नेताओं द्वारा कई बार आरोप लगाए जा चुके हैं कि केंद्र में सत्तारूढ़ मोदी सरकार सरकारी एजेंसियों सीबीआई, ईडी और एनसीबी का दुरुपयोग कर विपक्ष के नेताओं को निशाना बनाती है।

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
शिक्षा और चिकित्सा हर किसी को निशुल्क मिले कुल भूषण त्यागी
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
आवारा पशुओं से जान का जोखिम बढ़ जाता है कुलभूषण त्यागी
चित्र
मतदान लोकतंत्र का सबसे बड़ा पर्व है एडवोकेट अरविंद गुप्ता
चित्र