एयर फोर्स डे: हिंडन एयरबेस पर जवानों ने दिखाए हैरतअंगेज करतब

 


 आगर : भारतीय वायुसेना आज अपना 89वां स्थापना दिवस मना रही है. देश को गौरवान्वित करने वाले इस मौके पर गाजियाबाद स्थित हिंडन एयरबेस पर भव्य कार्यक्रम हो रहा है, जहां आसमान में भारतीय वायुसेना के जवान हैरतअंगेज करतब का प्रदर्शन कर रहे हैं.

हिंडन एयरबेस पर आयोजित कार्यक्रम में वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल विवेक राम चौधरी के अलावा नौसेना प्रमुख करमबीर सिंह, सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे और चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत भी मौजूद हैं. हिंडन एयरबेस पर बाकी फाइटर जेट्स के साथ राफेल और सुखोई-30 ने भी अपनी ताकत दिखाई. इनके अलावा चिनूक और अपाचे हेलीकाप्टर भी दिखे.इससे पहले वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी ने हिंडन एयरबेस पर 89वें स्थापना दिवस पर वायुसेना दिवस परेड का निरीक्षण किया. इस मौके पर उन्होंने कहा, जब मैं सुरक्षा परिदृश्य को देखता हूं जिसका आज हम सामना कर रहे हैं तो मैं पूरी तरह से सचेत हूं कि मैंने एक महत्वपूर्ण समय पर कमान संभाली है. हमें राष्ट्र को बताना चाहिए कि बाहरी ताकतों को हमारे क्षेत्र का उल्लंघन नहीं करने दिया जाएगा.राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बधाई देते हुए कहा वायुसेना दिवस पर वायु योद्धाओं, पूर्व कर्मी और उनके परिवारों को बधाई. राष्ट्र को भारतीय वायु सेना पर गर्व है जिसने शांति और युद्ध के दौरान बार-बार अपनी क्षमता और क्षमता साबित की है. मुझे विश्वास है कि भारतीय वायुसेना उत्कृष्टता के अपने पोषित मानकों को बनाए रखना जारी रखेगी.पीएम मोदी ने ट्वीट कर दी बधाई. उन्होंने लिखा, एयरफोर्स डे पर वायु योद्धा और उनके परिवारों को बधाई. भारतीय वायु सेना साहस, परिश्रम और व्यावसायिकता का पर्याय है. उन्होंने चुनौतियों के समय में देश की रक्षा करने के साथ-साथ अपनी मानवीय भावना भी दिखाई है.

 


 गौरतलब है कि भारतीय वायुसेना (इंडियन एयरफोर्स) भारतीय सशस्त्र सेना का एक अंग है. 8 अक्टूबर 1932 को वायुसेना की स्थापना की गयी थी. स्वतंत्रता (1950 में पूर्ण गणतंत्र घोषित होने) से पहले भारतीय वायुसेना को रॉयल इंडियन एयरफोर्स के नाम से जाना जाता था. बाद में रॉयल शब्द को हटाकर सिर्फ इंडियन एयरफोर्स दिया गया. हालांकि 1 अप्रैल 1933 को ही वायुसेना का पहला दस्ता बनाया गया था, जिसमें 6 आएएफ-ट्रेंड ऑफिसर और 19 हवाई सिपाही शामिल किए गए थे. भारतीय वायुसेना के पहले चीफ थॉमस डब्ल्यू एल्महर्स्ट थे.

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
ईद उल अजहा की पुरखुलूस मुबारकबाद -अजय गुप्ता महासचिव केमिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन
चित्र