आशीष मिश्रा के नेपाल भाग जाने की आशंका, RLD नेता बोले- ये आतंकवादी भाग गया या भगा दिया गया?

 


उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में किसानों के नरसंहार मामले में आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई है। सुप्रीम कोर्ट द्वारा एक मामले में उत्तर प्रदेश योगी सरकार को फटकार लगाई गई है।

सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि योगी सरकार द्वारा इस मामले में उठाए गए कदमों से कोर्ट संतुष्ट नहीं है। दूसरी तरफ केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा को आज क्राइम ब्रांच के समक्ष पेश नहीं हुआ है।

दरअसल इस मामले में मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा को क्राइम ब्रांच द्वारा नोटिस भेजा गया था।

क्राइम ब्रांच द्वारा आशीष मिश्रा को आज सुबह 10 बजे पूछताछ के लिए बुलाया गया था। जहां वह पेश नहीं हुआ।

इसी बीच आशीष मिश्रा के नेपाल भाग जाने की आशंका जताई जा रही है।

सूत्रों के हवाले से खबर सामने आई है कि लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा नेपाल सीमा के आसपास किसी इलाके में छिपा हुआ है।

दरअसल उत्तर प्रदेश पुलिस सुप्रीम कोर्ट की दखलंदाजी के बाद इस मामले में काफी सक्रिय हो गई है।

इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में कहा गया है कि आशीष मिश्रा ने सीबीआई के समक्ष पेश होने के लिए कल तक का समय मांगा है। पुलिस की अलग-अलग टीमें आशीष मिश्रा की तलाशी कर रही है।

वहीं विपक्षी दलों द्वारा भी इस मुद्दे पर योगी सरकार को घेरा जा रहा है। विपक्षी दलों का कहना है कि 5 दिन पहले लखीमपुर खीरी में हिंसा की घटना घटी थी। लेकिन अब तक आरोपी आशीष मिश्रा को गिरफ्तार क्यों नहीं किया गया?

विपक्ष का आरोप है कि उत्तर प्रदेश पुलिस इस मामले में शुरू से ही आशीष मिश्रा को बचाने की कोशिश कर रही है। क्योंकि वह केंद्रीय गृह राज्य मंत्री का बेटा ह

 


इसी मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए राष्ट्रीय लोकदल के एससी एसटी संभाग के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रशांत कनौजिया ने लिखा-

गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी का आतंकवादी बेटा आशीष मिश्रा कथित तौर पर नेपाल भागने की आशंका है। भाग गए या भगा दिया गया?”

जानकारी के लिए आपको बता दें कि इस घटना के 4 दिन तक उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की गई थी।

शुक्रवार को योगी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के समक्ष स्‍टेटस रिपोर्ट दर्ज करनी है। इस वजह से अब यूपी पुलिस आशीष मिश्रा पर दबिश दे रही है।



टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
ईद उल अजहा की पुरखुलूस मुबारकबाद -अजय गुप्ता महासचिव केमिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन
चित्र