बाकी के मुद्दों के लिए पीएम को पत्र लिखेंगे किसान संगठन, आंदोलन पर 27 को होगा फैसला

 


नई दिल्ली,: सिंघु बॉर्डर पर चल रही संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक समाप्त हो गई है. किसान नेता बलबीर सिंह राजेवाल ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक खुला पत्र लिखा जाएगा, जिसमें बाकी मुद्दों को उठाया जाएगा. हालांकि अभी आंदोलन पहले की तरह जारी रहेगा. 22 को लखनऊ में किसान पंचायत, 26 को सभी सीमाओं पर गैदरिंग और 29 को संसद तक मार्च निकाला जाएगा. संयुक्त किसान मोर्चा की अगली बैठक 27 नवंबर को होगी, जिसमें आगे की रणनीति पर चर्चा की जाएगी.

संयुक्त किसान मोर्चा 40 से ज्यादा किसान संगठनों का समूह है, जो इस आंदोलन का नेतृत्व कर रहा है. राजेवाल ने कहा कि केंद्रीय कैबिनेट के फैसले से पहले कोई घोषणा नहीं होगी. इसमें बाकी मांगों को शामिल किया जाएगा- एमएसपी समिति, उसके अधिकार, उसकी समय सीमा, उसके कर्तव्य; इलेक्ट्रिसिटी बिल 2020 और केस वापस लेने जैसे मसले है. हम लखमीपुर खीरी घटना को लेकर मंत्री अजय मिश्रा टेनी को बर्खास्त करने के लिए भी उन्हें पत्र लिखेंगे.

टिप्पणियाँ