मोदी सरकार जैसे किसानों के सामने जिद्दी बनी हुई है वैसे चीन के सामने होती तो आज हालात कुछ और होते : सुब्रमण्यम स्वामी

 

भारतीय जनता पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी पार्टी के उन नेताओं में से एक हैं। जो कि अपनी ही सरकार को कई मुद्दों पर घेरते रहते हैं।

खास तौर पर बीते कुछ दिनों से भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी भारत चीन सीमा विवाद पर मोदी सरकार पर निशाना साध रहे हैं।

एक बार फिर सुब्रमण्यम स्वामी ने किसानों और भारत-चीन विवाद के मुद्दे पर मोदी सरकार पर हमला बोला है।

दरअसल मोदी सरकार द्वारा कई बार चीन को लाल आंखें दिखाने के दावे किए गए हैं। लेकिन बीते साल से लद्दाख में चीनी सैनिकों द्वारा लगातार घुसपैठ की जा रही है। यहां तक की लद्दाख के 3 हजार वर्ग किलोमीटर पर चीन द्वारा कब्जा किया जा चुका है।

भाजपा नेता ने बीते एक साल से दिल्ली की सीमाओं पर चल रहे किसान आंदोलन का जिक्र करते हुए ट्वीट किया है।

उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि “अगर केंद्र सरकार किसानों के सामने जिस तरह से जिद्दी बनी हुई है। अगर ऐसी ही से तो चीन के सामने दिखाती तो शायद आज बात कुछ और होती।

यहां तक कि भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने इस मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी सीधा हमला बोला था।

उन्होंने ट्वीट कर लिखा था कि इसके लिए आप पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू को जिम्मेदार नहीं ठहरा सकते


गौरतलब है कि लद्दाख में भारत और चीन के बीच चल रहे सीमा विवाद को लेकर दोनों देशों में कई बार बातचीत हो चुकी है।लेकिन अभी तक यह मामला सुलझ नहीं पाया है। चीन द्वारा इस गतिरोध के लिए भारत को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है।भारत चीन विवाद के अलावा भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी किसान आंदोलन पर भी मोदी सरकार को किसानों की मांगें मानने का सुझाव दे चुके हैं। ताकि जल्द से जल्द किसान आंदोलन को खत्म कर दें।

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
कोरोना वायरस: भारत में 1.56 लाख से अधिक की मौत, विश्व में मृतक संख्या 25 लाख के पार
चित्र
राम नाम सत्य है - प्रेम श्रीवास्तव
चित्र