चुनाव से पहले यूपी में जिन्ना की एंट्री, सीएम योगी ने अखिलेश के बयान को बताया शर्मनाक

 

लखनऊ : उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनावों से पहले मोहम्मद अली जिन्ना की एंट्री हो गई है. जिससे साफ है कि चुनाव अब किन मुद्दों पर लड़ा जाएगा. दरअसल, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के बयान पर पलटवार किया है. उन्होंने कहा कि सरदार वल्लभ भाई पटेल भारत की एकता और अखंडता के शिल्पी हैं. कल सपा प्रमुख की विभाजनकारी मानसिकता सामने आ गई. जब उन्होंने जिन्ना को समकक्ष रख के सरदार वल्लभ भाई पटेल की तुलना की. बीजेपी ने कहा कि अखिलेश यादव समाजवादी नहीं बल्कि जिन्नावादी हैं. उन्हें जनता से माफी मांगनी चाहिए. विभाजनकारी मानसिकता जनता स्वीकार नहीं करेगी.

बताते चलें कि भारत रत्न सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा का अनावरण करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, सरदार पटेल, जवाहरलाल नेहरू और जिन्ना एक ही संस्था से पढ़कर बाहर आए हैं और बैरिस्टर बने और देश को आजादी दिलाई. अखिलेश यादव ने कहा कि अगर बीजेपी के लोग पटेल जी पर विश्वास करते हैं तो तीनों कृषि कानूनों को निरस्त करें. उन्होंने राज्य की बीजेपी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि बीजेपी सरकार साढ़े चार साल में एक भी काम का शिलान्यास नहीं कर पाई है.जिस पर राज्य में सियासी हलचल तेज हो गई है. राज्य में योगी सरकार के मंत्री मोहसिन रजा ने अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि एसपी अध्यक्ष ने अखिलेश ने यह कहकर देश के महापुरुषों का अपमान किया है. क्योंकि उन्होंने विभाजनकारी जिन्ना की विचारधारा महात्मा गांधी, सरदार पटेल, जवाहरलाल नेहरू की विचारधारा को बताया है और इसके लिए उन्हें माफी मांगनी चाहिए. रजा ने कहा कि आज भी देश के कुछ लोगों के दिलों में जिन्ना की विचारधारा है और लोगों को ऐसी विचारधारा से बचना चाहिए. उन्होंने कहा कि ये समाजवादी विचारधारा नहीं बल्कि जिन्नावादी विचारधारा है और इससे लोगों को बचना चाहिए।

 


उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी अखिलेश यादव पर हमला बोलते हुए एक सभा में कहा, ‘कल सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने देश तोडऩे वाले जिन्ना से राष्ट्र को जोडऩे वाले सरदार वल्लभ भाई पटेल की तुलना की. यह बेहद शर्मनाक कृत्य है. प्रदेश की जनता इसे कभी स्वीकार नहीं करेगी.’

हालांकि अखिलेश यादव के जिन्ना पर दिए गए बयान के बाद बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने ट्वीट कर अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए सवाल किया कि वह सरदार पटेल की जयंती पर मोहम्मद अली जिन्ना का महिमामंडन क्यों कर रहे हैं. उन्होंने अपने ट्वीट में एसपी प्रमुख अखिलेश यादव का एक वीडियो पोस्ट किया है. जिसमें वह कह रहे हैं कि महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू और मोहम्मद अली जिन्ना ने एक ही संस्था में पढ़ाई की.

 

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
राज्यपाल अनंदीबेन पटेल से से प्रशिक्षु IAS अफ़सरों नज की मुलाक़ात !!
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
गोवंश का संरक्षण एवं संवर्द्धन राज्य सरकार की प्राथमिकता - धर्मपाल सिंह
चित्र