कोरी बयानबाजी कर रही बसपा प्रमुख को बाहर निकल कर विकास देखना चाहिए: स्‍वामी प्रसाद मौर्य

 


लखनऊ : सत्ता में रहते हुए गरीबों, मजदूरों, दलितों और पिछड़ों का हक मारने और भ्रष्‍टाचार का पोषण करने वाले नेता प्रदेश का विकास और जनता की खुशहाली देख नहीं पा रहे हैं. जनता की गाढ़ी कमाई मूर्तियों और स्‍मारकों के बहाने भ्रष्‍टाचार में लुटाने वाली बसपा प्रमुख मायावती को प्रदेश का दौरा कर विकास देखना चाहिए.

सत्‍ता में रहते हुए बसपा नेता ने सिर्फ दलितों, गरीबों को शोषण किया है. योगी सरकार ने साढ़े चार साल में प्रदेश की सूरत बदलने का काम किया है. आखिरी पायदान पर खड़े व्‍यक्ति तक योगी सरकार ने योजनाओं का लाभ पहुंचाया है. लोक कल्‍याण संकल्‍प पत्र में किए गए एक-एक वादे को पूरा किया है. ये बातें कैबिनेट मंत्री स्‍वामी प्रसाद मौर्य ने मंगलवार को कहीं.बसपा प्रमुख मायावती के बयान पर पलटवार करते हुए मौर्य ने कहा कि जनता के साथ वादों की ठगी बसपा और सपा की सरकारों में होती थी. योगी सरकार डंके की चोट पर योजनाओं को जमीन पर उतार कर उसका शुभारंभ कर रही है. वादों की बाजीगरी करने वालों को विकास चुनावी वादे ही नजर आएंगे.

 


कैबिनेट मंत्री ने कहा कि योगी सरकार ने कोरोना का जिस तरह से सफल मुकाबला किया है, उसकी तारीफ देश और दुनिया भर में हो रही है. कोविड काल में जनता के साथ सिर्फ योगी सरकार और भाजपा कार्यकर्ता ही खड़े थे. संकट के समय विपक्ष के नेताओं ने जनता को अकेला छोड़कर खुद को घर में बंदकर लिया था.

योगी सरकार 15 करोड़ गरीबों, जरूरतमंदों को मुफ्त राशन वितरण कर रही है. मुश्किल वक्‍त में भी उद्योगों को चलाए रखकर लोगों को रोजगार से जोड़े रखा. उन्‍होंने कहा कि बिजली आपूर्ति हो या उद्योग या फिर मेट्रो परियोजना, एक्‍सप्रेस वे और एयरपोर्ट हर क्षेत्र में विकास की नई इबारत भाजपा की सरकार ने लिखी है. जनता बसपा और सपा की सरकारों को देख चुकी है. बहन जी के पास कहने के लिए कुछ बचा नहीं है. इसलिए बिना कुछ देखे समझे और विचार किए बयानबाजी कर रही हैं.

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
ईद उल अजहा की पुरखुलूस मुबारकबाद -अजय गुप्ता महासचिव केमिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन
चित्र