नोटबंदी आज़ाद भारत का सबसे बड़ा घोटाला:चौधरी सुनील सिंह
 

हिंदी दैनिक आज का मतदाता गाजियाबाद :*ना भ्रष्टाचार* *नाआतंकवाद* *ना काला धन* रुका नोटबंदी की पांचवी बरसी पर भाजपा को बहुत-बहुत बधाई उससे कहीं ज्यादा बधाई उन लोगों को जो काला धन लेकर विदेश फरार हो गए

सिंह ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा और सवाल किया कि अगर यह कदम सफल था तो फिर भ्रष्टाचार खत्म क्यों नहीं हुआ और आतंकवाद पर चोट क्यों नहीं हुई ? उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘अगर नोटबंदी सफल थी तो भ्रष्टाचार खत्म क्यों नहीं हुआ ? कालाधन वापस क्यों नहीं आया ? अर्थव्यवस्था कैशलेस क्यों नहीं हुई ? आतंकवाद पर चोट क्यों नहीं हुई ? महंगाई पर अंकुश क्यों नहीं लगा ?’’नोटबन्दी_काला_दिन के साथ, ''नोटबन्दी से काला धन नहीं आया, बल्कि भाजपा सरकार द्वारा उनके कुछ खास पूंजीपतियों को लाभ देकर किसान, मजदूर, छोटे व्यापारियों व मेहनतकश लोगों को नुकसान पहुंचाने का काम किया गया. सरकार द्वारा इस अचानक लिए गए फैसले से लाइन में लगे कितने ही मासूमों की जान चली गयी.''सिंह ने आगे कहा है कि विधानसभा 2022 का चुनाव चुनावी नजदीक आते देख कर विचारधारा के मोह को छोड़ कुर्सी को सर्वोपरि रखते हुए नेता एक पार्टी से दूसरी पार्टी में मेंढक की तरह कूदना शुरु कर चुके हैं। सपा बसपा,भाजपा में लाख कमियां है।,आज वे अचानक एक दूसरे को सबसे अच्छी समझ रही है
सपा, बसपा और भाजपा में  नहीं समझते जनता का दर्द

किसान, गरीब, और दलितों को किया जा रहा है परेशान  :


लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी सुनील सिंह ने आज लखनऊ कार्यालय में प्रेस वार्ता करते हुए कहा की  सरकार के चेहरे बदलते रहे किंतु देश, प्रदेश गांव की दशा नहीं बदली। सिंह ने कहा की  सपा, बसपा और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधते हुए कहा है कि  कि आगामी विधानसभा चुनाव 2022 में जनता जवाब देने को तैयार बैठी है उन्होंने कहा कि सपा, बसपा और कांग्रेस की सरकार में भ्रष्टाचार और गुंडागर्दी होती रही है किसान की आय दुगनी करने का वादा या पूर्व की सरकारों में फसलों का वआजीफ मूल्य गन्ने का बकाया मूल्य आदि आज भी जस की तस स्थिति में है। किसान आज भी परेशान है।

टिप्पणियाँ