मेयर सम्मेलन में बोले पीएम मोदी, शहरों की खूबसूरती बढ़ाने के लिए शुरू करें प्रतियोगिता

 

वाराणसी : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज उत्तर प्रदेश के वाराणसी में भारतीय मेयर सम्मेलन का वर्चुअल उद्घाटन किया. उन्होंने सम्मेलन में हिस्सा लेने आए मेयर से कहा कि वह काशी के सांसद होने के नाते आपका स्वागत करता हूं. सम्मेलन में पीएम नरेंद्र मोदी के साथ ही यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी भी मौजूद रहे.

पीएम मोदी ने कहा कि सभी शहरों को नदी उत्सव मनाना चाहिए और सात दिन तक शहर में नदी उत्सव के जरिए नदियों साफ की साफ सफाई के साथ ही विभिन्न प्रतियोगिताएं शुरू करनी चाहिए.

जन भागीदारी से होना चाहिए शहर का विकास

पीएम मोदी ने कहा कि भारत और भारत के शहरों के विकास के लिए अनुभवों को साझा करेंगे. जनता ने विश्वास जताया और उसे हमें पूरा करना चाहिए और अच्छे परिणाम मिले इसके लिए कोशिश करनी चाहिए. मैं यूपी सरकार और केन्द्रीय मंत्री और मेयर सम्मेलन में हिस्सा लेने आए मेयर को बधाई देना चाहता हूं. काशी में आने के लिए आपका स्वागत है. काशी में हो रहे इस कार्यक्रम में कई तरह की संभावना देख रहा हूं.

काशी का विकास देश के विकास का रोडमैप बन सकता है

काशी विश्व के सबसे पुराने शहरों में था और आज ये आधुनिक शहरों में और काशी का विकास देश के विकास का रोडमैप बन सकता है. पीएम मोदी ने कहा कि शहर का जन्मदिवस मालूम होना चाहिए और शहर का जन्मदिवस धूमधाम से मनाया जाना चाहिए और हर आदमी के दिल में ये बात होनी चाहिए कि मेरा शहर ऐसा होना चाहिए. जिसमें सभी तरह की सुविधाएं होनी चाहिए.

पीएम मोदी बोले-काशी में जरूर घूमें

पीएम मोदी ने कहा कि आप काशी को जरूर घूमें और यहां के अनुभवों को अपने क्षेत्र में जाकर बांटे. काशी में जिस तरह के विकास हुआ उसको देखें. जब आपका नेतृत्व जब अपने शहर में विकास कार्य करेगा तो काशी को जरूर ध्यान में रखें. आधुनिक युग में हम कैसे बढ़ें इस पर विचार करे. हर साल स्वच्छ शहर की घोषणा होती है. कुछ ही शहर इसमें शामिल हैं और बाकी में प्रयास नहीं किए जा रहे हैं. लिहाजा सभी मेयर संकल्प करें कि अगली बार आप और आपका शहर पीछे ना हो.

वार्ड ब्यूटी प्रतियोगिता शुरू करें

पीएम मोदी ने मेयर को संबोधित करते हुए कहा कि विश्व में सौंदर्य प्रतियोगिताएं होती हैं. लिहाजा सभी मेयर अपने शहर में वार्ड ब्यूटी प्रतियोगिता शुरू कर सकते हैं. साफ-सफाई अभियान और रंग को लेकर प्रतियोगिता शुरू कर सकते हैं. इससे शहर की खूबसूरती को बढ़ाया जा सकता है और शहर को स्वच्छ रखा जा सकता है. इसका लाभ जनता के साथ ही आपको भी मिलेगा.

बिजली बचाने पर करें काम

सभी ये तय करें कि आपके शहर की हर गली में बल्ब, एलईडी लगा हो. इससे नगर पालिका, महानगर पालिका के बिजली का बिल काफी कम हो जाएगा और रोशनी भी अच्छी मिलेगी. उस प्रकार से अपने शहर के हर घर में भी एलईडी बल्ब उपलब्ध हो, इससे मध्यम वर्ग के घरों में बिजली का बिल कम होगा.

शहर की ब्रांडिग उत्पाद से करें

यूपी में सरकार एक अच्छा कार्यक्रम चला रही है. वन डिस्ट्रिक वन प्रोडक्ट कार्यक्रम यूपी में योगी आदित्यनाथ सरकार ने शुरू की गई है और आप भी अपने शहर में इस कार्यक्रम को शुरू कर सकते हैं. जो आपके शहर का प्रोडक्ट है. उसकी ब्रांडिंग करें. आपके शहर के उत्पाद के बारे में देश और दुनिया को जानकारी मिले. आपके शहर की ऐसी कौन सा उत्पाद है जो आपके शहर को पहचान दिला सके. उस उत्पाद का चुनाव करें.

पीएम स्वनिधि योजना का लाभ स्ट्रीट वेंडर तक पहुंचाएं

पीएम मोदी ने कहा कि शहर में वेंडर और रेहड़ी वाले अर्थव्यवस्था में अहम भूमिका निभाते हैं. वह लोग साहूकार से पैसा लेता है और उसका आधा पैसा ब्याज में ही चला जाता है और पीएम स्वनिधि योजना उनके लिए बनाई गई है. कोरोना काल में उन लोगों की अहमियत सबको मालूम चली है. अपने वेंडर को मोबाइल से लेन देन सिखा दें. आज काशी से संकल्प लेकर जाइए कि 26 जनवरी से पहले स्ट्रीट वेंडर को डिजिटल की ट्रेनिंग दी जाएगी. पीएम मोदी ने कहा कि वह काशी आए हैं और वह काशी को लेकर सलाह दें और ताकि उन्हें लागू कर सकें.आपको बता दें कि वाराणसी में 17 दिसंबर को अखिल भारतीय मेयर सम्मेलन में भाग लेने के बाद महापौर प्रभु श्रीराम की जन्मस्थली श्री अयोध्या धाम में 18 दिसंबर को आ रहे हैं. अयोध्या नगर निगम के महापौर ऋषिकेश उपाध्याय ने बताया कि करीब 100 महापौर के आने की संभावना है.

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
ईद उल अजहा की पुरखुलूस मुबारकबाद -अजय गुप्ता महासचिव केमिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन
चित्र
अहमदाबाद: 17 किलोमीटर लंबी रथ यात्रा, एक लाख साड़ियां और...अमित शाह