जनपद रायबरेली में जहरीली शराब को लेकर सरकार हुई सख्त, आरोपियों पर लगेगा एनएसए और गैंगस्टर एक्ट

लखनऊ,: प्रदेश के रायबरेली जिले में जहरीली शराब मामले में अब तक नौ मौतें हो चुकी हैं. वहीं, उत्तर प्रदेश सरकार ने जिला प्रशासन को नकली शराब की आपूर्ति में पाए जाने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया है. हालांकि सरकार ने इस मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए नौ अधिकारियों कर्मचारियों को निलम्बित कर दिया है उन पर आईपीसी और आबकारी कानूनों की कड़ी धाराओं के अलावा एनएसए और गैंगस्टर अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया जाएगा. उन्हें तत्काल आरोप पत्र देने के निर्देश दिए गए हैं. वहीं आबकारी विभाग के अगले आदेश तक तत्काल प्रभाव से रायबरेली और आसपास के जिलों में सिर्फ टेट्रा पैक देशी शराब की बिक्री की जाएगी.

दरअसल, सरकार ने यह स्पष्ट कर दिया है कि, किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा, चाहे वह कितना भी ऊंचा हो. पूरी गहन जांच जारी है और असली दोषियों की तलाश के लिए छापेमारी की जा रही है. अवैध व नकली विंडीज ब्रांड की देशी शराब के स्रोत की जांच की जा रही है सरकार ने इस मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए 9 अधिकारियों कर्मचारियों को निलम्बित कर दिया है. वहीं, पुलिस विभाग के महाराजगंज के एसएचओ नारायण कुमार कुशवाहा, चौकी प्रभारी धुलवासा राजकुमार, कांस्टेबल रत्नेश कुमार राय, ब्रजेश कुमार यादव, शिवनारायण पाल, विजय राम और आबकारी विभाग के रायबरेली के डीईओ राजेश्वर मौर्य, आबकारी निरीक्षक अजय कुमार, कांस्टेबल धीरेन्द्र श्रीवास्तव को सस्पेंड कर किया गया है.

बता दें कि यूपी सरकार ने जिला प्रशासन को नकली शराब की आपूर्ति में संलिप्त पाए जाने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया है. उन पर आईपीसी और आबकारी कानूनों की कड़ी धाराओं के अलावा एनएसए और गैंगस्टर अधिनियम के तहत मामले दर्ज होंगे. इस दौरान सरकार ने साफ तौर पर कहा है कि किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा. वहीं, इस मामले की गहराई से जांच की जा रही है और असली दोषियों की तलाश के लिए छापेमारी की जा रही है. साथ ही अवैध व नकली विंडीज ब्रांड की देशी शराब के स्रोत की जांच की जा रही है. फिलहाल रायबरेली में नकली शराब पीने से सात लोगों की मौत हो चुकी है और 22 लोग अस्पताल में भर्ती हैं.

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
ईद उल अजहा की पुरखुलूस मुबारकबाद -अजय गुप्ता महासचिव केमिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन
चित्र
अहमदाबाद: 17 किलोमीटर लंबी रथ यात्रा, एक लाख साड़ियां और...अमित शाह