डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कौशांबी की सिराथू विधानसभा से किया नामांकन, बोले- अबकी बार 300 पार

कौशांबी: उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने गुरुवार को कौशांबी की सिराथू विधानसभा से नामांकन किया. नामांकन से पहले उन्होंने अपनी मां धनपति देवी से आशीर्वाद लिया इसके बाद शीतला धाम पहुंचकर पूजा-अर्चना की. इस दौरान उन्होंने कहा कि भाजपा अबकी बार 300 से ज्यादा सीट जीतकर सरकार बनाएगी. डिप्टी सीएम मौर्य के नामांकन में शामिल होने के लिए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और उत्तर प्रदेश चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान भी पहुंचे. उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के नामांकन में शामिल हुए भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि डिप्टी सीएम केशव मौर्य सिराथू विधानसभा से जीत हासिल कर क्षेत्र में जीत हासिल कर बीजेपी को ऊंचाइयों पर ले जाएंगे.

राष्ट्रीय अध्यक्ष भाजपा जेपी नड्डा ने विधानसभा चुनाव को एक लड़ाई बताया। उन्होंने कहा कि उन्हें विश्वास है कि इस लड़ाई में न ही केशव प्रसाद मौर्य को बल्कि भाजपा को जीत मिलेगी और जनता का भरपूर आशीर्वाद मिलेगा. फिर से सरकार बनाएंगे. जहां तक केशव प्रसाद मौर्य का सवाल है. उन्हें विधायक सांसद और डिप्टी सीएम के रूप में काम करने का सौभाग्य मिला है. उनका कार्य समाज के मुख्य धारा में काम करने वाला रहा है. उन्हें विश्वास है कि केशव मौर्य अपने विकास के साथ साथ प्रदेश के विकास में सहयोग रहेगा. जेपी नड्डा ने कहा कि जब हम भाजपा, अपना दल और निषाद पार्टी की बात करते हैं तो हमें ये ध्यान में रखना चाहिए कि हमारा उद्देश्य सिर्फ कुर्सी पर बैठना नहीं है. बल्कि भाजपा विचारों की पार्टी है, सत्ता में आते ही उस विचार को साकार करने वाली पार्टी है. हम जब केशव की बात करते हैं तो एक मुस्कुराता हुआ केशव दिखेगा. यह छोटा विषय नहीं है.

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने इससे पहले भी माता शीतला की पूजा करने के बाद ही चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत की थी. इस बार भी उन्होंने से माता शीतला की पूजा के बाद नामांकन पत्र दाखिल किया. उनके स्वागत के लिए जगह-जगह महिलाएं फूल लेकर खड़ी नजर आईं. महिलाओं ने डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का पुष्प वर्षा के साथ स्वागत किया.

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
राज्यपाल अनंदीबेन पटेल से से प्रशिक्षु IAS अफ़सरों नज की मुलाक़ात !!
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
गोवंश का संरक्षण एवं संवर्द्धन राज्य सरकार की प्राथमिकता - धर्मपाल सिंह
चित्र