योगी सरकार 2.0 पेश करेगी अब तक का सबसे बड़ा बजट

 


विधानसभा सत्र 23 से, 26 मई को पेश होगा 6 लाख करोड़ से अधिक का बजट

लखनऊ योगी सरकार 2.0 का पहला बजट आगामी 26 मई को पेश किया जाएगा। 2022-23 के बजट का आकार अब तक का सबसे बड़ा लगभग 6 लाख करोड़ का होगा। ऐसा माना जा रहा है कि इस नए बजट में खेती-किसानी, लाभार्थीपरक योजनाएं, युवा, रोजगार और ढांचागत सुविधाओं पर ज्यादा फोकस किया जाएगा। नए बजट में भाजपा अपने चुनावी संकल्प पत्र पर ज्यादा केंद्रित करेगी।

विधानसभा सचिवालय द्वारा आज जारी किए गए कार्यक्रम के अनुसार, बजट सत्र के पहले दिन 23 मई को राज्यपाल आनंदीबेन पटेल दोनों सदनों के समक्ष अभिभाषण पेश करेंगी। 24 व 25 मई को अभिभाषण पर चर्चा होगी। 26 मई को वित्तमंत्री सुरेश खन्ना बजट पेश करेंगे।

बता दें कि देश की सर्वाधिक आबादी वाले उत्तर प्रदेश में योगी सरकार 2.0 का आगामी बजट किसान, युवा, महिलाओं और बुजुर्गों के हितों को ध्यान में रखकर तैयार किया जा सकता है। योगी सरकार 2.0 का यह पहला बजट 6 लाख करोड़ का हो सकता है। जो कि यूपी के लिए बेहद ही खास होगा।
चुनावी घोषणाओं के मुताबिक किसानों को सिंचाई के लिए निःशुल्क बिजली, उज्जवला योजना के तहत होली और दिवाली में 2 मुफ्त सिलेंडर के जिए धनराशि की व्यवस्था की जाएगी।

योगी सरकार अपने दूसरे कार्यकाल के पहले बजट में फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारंटी की भी व्यवस्था कर सकती है। इसके अलावा छुट्टा पशुओं से किसानों को निजात दिलाने के लिए भी सरकार बजट में प्रावधान कर सकती है। वहीं इस बजट में किसानों को सिंचाई के लिए मुफ्त बिजली की बड़ी सौगात मिल सकती है। इसके अलावा मेगा फूड पार्क की स्थापना पर भी फोकस रहेगा ताकि कृषि उपज की मांग में स्थायी वृद्धि हो सके।

विधानसभा का कार्यक्रम

23 मई को सत्र के पहले दिन राज्यपाल संयुक्त रूप से दोनों सदनों मे अभिभाषण देंगी।
24 और 25 मई को राज्यपाल के अभिभाषण पर सदन पर चर्चा होगी।
26 मई को वित मंत्री सुरेश खन्ना 11ः00 बजे 2022- 23 का आय व्यय का अपना बजट पेश करेंगे।
27 मई को राज्यपाल के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा होगी और कई विधेयक भी सदन में पेश किए जाएंगे।
28 मई को सदन में बजट पर चर्चा होगी।
30 मई को भी सदन में बजट पर चर्चा होगी।

31 मई को सदन में बजट पर मतदान होगा।

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
ईद उल अजहा की पुरखुलूस मुबारकबाद -अजय गुप्ता महासचिव केमिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन
चित्र