प्राणी मात्र के प्रति मित्रता का भाव बनाए रखें यही मानवता है बलदेव राज बत्रा

 


         बलदेव राज बत्रा

 प्राणी मात्र के प्रति मित्रता का भाव बनाए रखें यही मानवता है

जीव मात्र के प्रति प्रेम व दया भाव रखें।

 दान सहयोग धन की यथासंभव सहायता करें भूखों को खाना खिलाएं प्यासे को पानी पिलाएं निर्वस्त्र को वस्त्र दें बेरोजगार को काम दे बीमार को दवा दें अज्ञानी को शिक्षा का दान दे।
मनुष्य मात्र वह जीव मात्र से प्यार ईश्वर की सच्ची पूजा है इबादत है।
आप और हम सहयोग का हाथ बढ़ाएंगे मनुष्य होने का वायदा निभाएंगे।
 परमात्मा की रहमत आपकी झोली में जरूर आएगी
प्रेम प्रसन्नता करुणा सहानुभूति दया गरीबों पर जरूर करिएगा।
गरीबों की दुआएं भी आपको अवश्य लगेगी।


टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
कोरोना वायरस: भारत में 1.56 लाख से अधिक की मौत, विश्व में मृतक संख्या 25 लाख के पार
चित्र
राम नाम सत्य है - प्रेम श्रीवास्तव
चित्र