प्राणी मात्र के प्रति मित्रता का भाव बनाए रखें यही मानवता है बलदेव राज बत्रा

 


         बलदेव राज बत्रा

 प्राणी मात्र के प्रति मित्रता का भाव बनाए रखें यही मानवता है

जीव मात्र के प्रति प्रेम व दया भाव रखें।

 दान सहयोग धन की यथासंभव सहायता करें भूखों को खाना खिलाएं प्यासे को पानी पिलाएं निर्वस्त्र को वस्त्र दें बेरोजगार को काम दे बीमार को दवा दें अज्ञानी को शिक्षा का दान दे।
मनुष्य मात्र वह जीव मात्र से प्यार ईश्वर की सच्ची पूजा है इबादत है।
आप और हम सहयोग का हाथ बढ़ाएंगे मनुष्य होने का वायदा निभाएंगे।
 परमात्मा की रहमत आपकी झोली में जरूर आएगी
प्रेम प्रसन्नता करुणा सहानुभूति दया गरीबों पर जरूर करिएगा।
गरीबों की दुआएं भी आपको अवश्य लगेगी।


टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
आंचलिक पत्रकार और पत्रकारिता की गिरती साख- प्रेम श्रीवास्तव
हर महिला की लड़ाई, हमारी लड़ाई है- अल्का लांबा
चित्र
वर्तमान समय में आंखों का इलाज अत्याधुनिक हो चुका है डॉ अजय कुमार गर्ग
चित्र
नाक कान और गला शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंग है डॉक्टर अंशुल गर्ग
चित्र