गाजियाबाद में यातायात व्यवस्था और इलेक्ट्रॉनिक बसों की सुविधा हर क्षेत्रों में बेहतर बनाएंगे - सुनील त्यागी

 

सुनील त्यागी

हिंदी दैनिक आज का मतदाता गाजियाबाद शास्त्री नगर आगामी 2022 नगर निगम चुनाव में भावी मेयर पद प्रत्याशी सुनील त्यागी ने एक संक्षिप्त वार्ता के अंतर्गत कहा कि गाजियाबाद सदैव राजनीति का वह केंद्र बिंदु रहा है जो प्रारंभ से ही प्रदेश और देश में नई दिशा देता रहा है लेकिन सोचने की बात  है कि हमारा गाजियाबाद पूरे देश में देश की राजधानी दिल्ली के बिल्कुल समीप है उसके बावजूद भी दिल्ली राजधानी की कोई भी एक झलक गाजियाबाद में अभी तक नहीं पड़ती है इसके पीछे मुख्य कारण गाजियाबाद में कार्यरत प्रशासनिक अधिकारियों और यहां के स्थानीय नेताओं की बहुत बड़ी नाकामी है गाजियाबाद शहर बनने के बहुत दिनों बाद नोएडा जिस तरह से बसा और वहां पर जिस तरह से उसका विकास हुआ यह एक सुखद विषय लेकिन उसके बावजूद भी गाजियाबाद का विकास अभी तक नहीं हुआ   सुनील त्यागी ने कहा कि हमारा प्रयास है कि यदि गाजियाबाद की जनता हमें अपना आशीर्वाद देती है तो हमारा परम कर्तव्य यही होगा कि हम शीघ्र से शीघ्र गाजियाबाद की यातायात व्यवस्था के साथ-साथ हर क्षेत्र में इलेक्ट्रॉनिक बसों की सुविधा को पहुंचाएं और बेहतर बनाएं क्योंकि आम नागरिकों के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट की बहुत आवश्यकता होती है उसकी बहुत अधिक  महत्त्व भी होता है सुनील त्यागी ने कहा कि  पब्लिक ट्रांसपोर्ट को बेहतर बनाने का एक और मुख्य कारण यह है कि गाजियाबाद हमेशा पूरे देश में सबसे ज्यादा प्रदूषित शहर के रूप में देखा जाता है यदि एक घर से चार व्यक्ति शहर में निकलता है तो उसकी 4 गाड़ियां निकलती है जिससे कि ज्यादा पोलूशन होता लेकिन अगर एक बस में कई आम नागरिक सफर करेंगे तो पैसा बचत के साथ-साथ गाजियाबाद का पोलूशन भी नियंत्रित रहेगा  सुनील त्यागी ने कहा कि हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता होगी कि गाजियाबाद शहर को  हाइटेक सिटी बनाने के लिए सर्वप्रथम यहां की जो ट्रैफिक प्रणाली है और यातायात व्यवस्था है वह बहुत ही सुचारू करनी होगी और इलेक्ट्रॉनिक बसों का जाल सारे वार्ड में बिछाना होगा  जिससे की आम जनता को पब्लिक ट्रांसपोर्ट का लाभ बेंगलुरु और मुंबई की तर्ज पर मिल सके और गाजियाबाद का प्रदूषण भी नियंत्रित रह सके

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
ईद उल अजहा की पुरखुलूस मुबारकबाद -अजय गुप्ता महासचिव केमिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन
चित्र