गुजरात विधानसभा चुनाव में एकमात्र मुस्लिम प्रत्याशी इमरान खेड़ावाला जीतने में सफल रहे

 


अहमदाबाद के जमालपुर-खड़िया विधानसभा क्षेत्र से निवर्तमान कांग्रेस विधायक इमरान खेड़ावाला ने गुजरात विधानसभा चुनाव में अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी भाजपा के भूषण भट्ट को मात दी. इस बार कांग्रेस ने छह, आप ने तीन, एआईएमआईएम ने 12 मुस्लिम प्रत्याशियों को मैदान में उतारा था. वहीं, सत्तारूढ़ भाजपा ने किसी भी मुस्लिम को टिकट नहीं दिया था.अहमदाबाद: कांग्रेस के इमरान खेड़ावाला 182 सदस्यीय गुजरात विधानसभा के लिए हाल ही में संपन्न हुए चुनावों में चुने गए एकमात्र मुस्लिम उम्मीदवार हैं. इन चुनावों में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने बहुमत के साथ जीत दर्ज की है.

निवर्तमान विधानसभा में तीन मुस्लिम विधायक थे और सभी कांग्रेस से थे.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, अहमदाबाद शहर के जमालपुर-खड़िया विधानसभा क्षेत्र से निवर्तमान कांग्रेस विधायक खेड़ावाला ने अपनी सीट बरकरार रखते हुए बीते 8 दिसंबर को हुई मतगणना में 13,658 मतों के अंतर से जीत दर्ज की.उन्होंने मुस्लिम बहुल निर्वाचन क्षेत्र में अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी भाजपा के भूषण भट्ट को हराया. इस सीट से ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व विधायक साबिर काबलीवाला भी मैदान में थे.

इस बार के चुनावों में कांग्रेस ने तीन मौजूदा विधायकों सहित छह मुस्लिम उम्मीदवारों को मैदान में उतारा था. इनमें दो विधायक समेत पांच प्रत्याशी हार गए. 2017 में, मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस द्वारा मैदान में उतारे गए अल्पसंख्यक समुदाय के पांच में से तीन उम्मीदवार विजयी हुए थे.

गुजरात की आबादी में मुसलमानों की संख्या लगभग 10 प्रतिशत है.

कांग्रेस उम्मीदवार और मौजूदा विधायक गयासुद्दीन शेख अहमदाबाद जिले के दरियापुर विधानसभा क्षेत्र में भाजपा के कौशिक जैन से हार गए.

इसी तरह पार्टी के एक अन्य विधायक मोहम्मद जावेद पीरजादा को मोरबी जिले के वांकानेर में भाजपा उम्मीदवार के हाथों हार का सामना करना पड़ा. यहां आम आदमी पार्टी (आप) के उम्मीदवार ने 53,110 वोट पाकर पीरजादा की हार में योगदान दिया.

कच्छ जिले की अब्दासा सीट पर कांग्रेस के मुस्लिम उम्मीदवार जाट ममद जंग को भाजपा उम्मीदवार और कांग्रेस के पूर्व विधायक प्रद्युम्न सिंह जडेजा ने करीब 9,000 वोटों से हराया.

आप ने तीन विधानसभा सीटों जमालपुर-खड़िया, दरियापुर और जम्बूसर पर मुस्लिम उम्मीदवार उतारे थे, लेकिन उनमें से कोई भी जीत नहीं पाया.

भाजपा ने एक भी मुस्लिम उम्मीदवार को मैदान में नहीं उतारा, जबकि अल्पसंख्यक समुदाय से एआईएमआईएम के 12 उम्मीदवार मैदान में थे, लेकिन सभी हार गए. एआईएमआईएम के दो उम्मीदवार अपने-अपने निर्वाचन क्षेत्र में तीसरे स्थान पर रहे.

हाल ही में संपन्न हुए चुनावों में भाजपा ने 156 सीटों पर जीत हासिल की, जो गुजरात के इतिहास में किसी भी पार्टी द्वारा निकाली गई सबसे अधिक सीट संख्या है, जबकि कांग्रेस 17 सीटों के साथ दूसरे स्थान पर रही. वहीं, आप के खाते में पांच सीटें आईं.

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
ईद उल अजहा की पुरखुलूस मुबारकबाद -अजय गुप्ता महासचिव केमिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन
चित्र