राहुल गांधी और ‘भारत जोड़ो यात्रा’ में सुरक्षा चूक, सरकार न करे प्रतिशोध की राजनीति: कांग्रेस

 


कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिख कर कहा है कि 24 दिसंबर को ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के दिल्ली पहुंचने पर पुलिस राहुल गांधी के इर्द-गिर्द भीड़ को नियंत्रित कर घेरा बनाने में नाकाम रही, जबकि उन्हें ‘जेड प्लस’ श्रेणी की सुरक्षा प्राप्त है.नई दिल्ली: कांग्रेस ने ‘भारत जोड़ो यात्रा’ और राहुल गांधी की सुरक्षा में चूक होने का दावा करते हुए बुधवार को कहा कि सरकार को पंजाब एवं जम्मू कश्मीर जैसे ‘संवेदनशील राज्यों’ में यात्रा को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करने चाहिए.

पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिख कर दावा किया कि 24 दिसंबर को ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के दिल्ली पहुंचने पर पुलिस राहुल गांधी के इर्द-गिर्द भीड़ को नियंत्रित कर घेरा बनाने में नाकाम रही जबकि उन्हें ‘जेड प्लस’ श्रेणी की सुरक्षा प्राप्त है.

कांग्रेस ने दिल्ली में ‘भारत जोड़ो यात्रा’ से जुड़ा एक वीडियो जारी किया है, जिसमें राहुल गांधी के ईर्द-गिर्द भारी भीड़ देखी जा सकती है.

वेणुगोपाल ने गृह मंत्री को लिखे पत्र में यह आग्रह भी किया कि अब आगे पंजाब और जम्मू कश्मीर जैसे ‘संवेदनशील राज्यों’ में राहुल गांधी और यात्रा की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जाएं.

उन्होंने कहा कि दिल्ली में 24 दिसंबर को स्थिति यह हो गई थी कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं और ‘भारत यात्रियों’ को राहुल गांधी के आसपास घेरा बनाना पड़ा था. इस बीच दिल्ली पुलिस मूकदर्शक बनी रही.

उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी, राजीव गांधी तथा कुछ अन्य कांग्रेस नेताओं की अतीत में हुई हत्या का भी उल्लेख किया और कहा कि सरकार को प्रतिशोध की राजनीति में नहीं पड़ना चाहिए तथा कांग्रेस नेताओं की पूरी सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए.

इसके अलावा पत्र में 2013 के झीरमघाटी नक्सली हमले का भी जिक्र है जिसमें छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के पूरे नेतृत्व का सफाया हो गया था.

वेणुगोपाल ने पत्र में कहा कि प्रत्येक भारतीय नागरिक को पूरे भारत में इकट्ठा होने और स्वतंत्र रूप से घूमने का संवैधानिक अधिकार है. ‘भारत जोड़ो यात्रा’ देश में शांति और सद्भाव लाने के लिए एक पदयात्रा है.

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस चिंता को दोहराते हुए कांग्रेस मीडिया एवं प्रचार प्रमुख पवन खेड़ा ने कहा, ‘हम भारत जोड़ो यात्रा के बारे में अफवाहों से लड़ने में सक्षम हैं. लेकिन यात्रियों की सुरक्षा प्रमुख चिंता का विषय है. जब यात्रा दिल्ली पहुंची थी तो चौंकाने वाले दृश्य देखने को मिले, बदरपुर और लाल किले में व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई थी.’

खेड़ा ने केंद्र की भाजपा नीत सरकार से भारत जोड़ो यात्रा को बदनाम करने से बचने का आग्रह किया. उन्होंने कहा, ‘इस यात्रा को बदनाम करने और रोकने का पूरा प्रयास किया गया है, लेकिन यह यात्रा रुकने वाली नहीं है क्योंकि यह यात्रा जोड़ने की है.’

उन्होंने कहा, ‘भारत जोड़ो यात्रा एक यज्ञ है और यज्ञ में व्यवधान डालने वालों को राक्षस कहा जाता है. हम आगाह कर रहे हैं कि बाज़ आइए, यज्ञ तो पूरा होकर रहेगा.’

उन्होंने भारत जोड़ो यात्रा को रोकने के बहाने कोविड का इस्तेमाल करने के लिए भी सरकार पर निशाना साधा. खेड़ा ने कहा कि राहुल गांधी और यात्रा को रोकने के लिए कोविड को एक कारण के रूप में क्यों इस्तेमाल किया जा रहा है, जबकि सरकार अपने कार्यक्रम जारी रखे हुए है.

कांग्रेस के संचार विभाग के सचिव वैभव वालिया ने भी पिछले दिनों हरियाणा में ‘भारत जोड़ो यात्रा’ से संबंधित विश्राम शिविर के कंटेनर में कुछ लोगों के कथित तौर पर घुसने का हवाला देते हुए आरोप लगाया था कि उनकी शिकायत पर प्रशासन ने कोई ठोस कदम नहीं उठाया.

‘भारत यात्री’ वैभव वालिया ने सोहना में पुलिस के समक्ष शिकायत दर्ज कराई थी. कांग्रेस का आरोप है कि कंटेनर में घुसने वाले लोग गुप्तचर विभाग के अधिकारी थे और यह सब केंद्र सरकार के इशारे पर हुआ है.

टिप्पणियाँ