शीघ्र ही लीनियर एक्सीलेटर से कैंसर मरीजों का इलाज और बेहतर हो पाएगा- एम गर्ग

एमसी गर्ग

गाजियाबाद श्री जगन्नाथ धर्मार्थ कैंसर अस्पताल के वर्तमान अध्यक्ष एमसी गर्ग ने एक संक्षिप्त वार्ता के अंतर्गत कहा कि श्री जगन्नाथ धर्मार्थ कैंसर अस्पताल आज देश के कुछ चुने हुए कैंसर अस्पतालों में से एक है इस अस्पताल में आज के समय तकरीबन प्रतिदिन 50 रेडियोथैरेपी मरीजों की इलाज किया जाता है जबकि 10 मरीजों की  प्रतिदिन कीमो  जाती है और यदि सर्जरी की बात की जाए तो वह वर्तमान में प्रतिदिन 1 मरीजों की हो जाती है एमसी गर्ग ने कहा कि हमारा उद्देश्य  एनसीआर के साथ-साथ देश के कोने कोने से कैंसर से पीड़ित मरीजों की आधुनिकतम जांच और इलाज को और अधिक बेहतर बनाना है जिस को ध्यान में रखते हुए  इस अस्पताल में तकरीबन एक करोड़ 16 लाख की सीटी स्कैन मशीन जो कि रोटरी क्लब अनंत के द्वारा दी गई  है वह सफलतापूर्वक कार्य कर रही है और मरीजों का बेहतर इलाज  हो पा रहा है आपने  कहा कि शीघ्र ही 15 करोड़ की लागत की  लीनियर एक्सीलेटर मशीन से कैंसर पीड़ित मरीजों का और बेहतर इलाज संभव हो पाएगा यह मेरा सबसे बड़ा जनमानस के लिए उद्देश्य है आपने कहा कि हम अपने कार्यकाल के दौरान अपने कमेटी के सहयोग एवं दानदाताओं के सहयोग से श्री जगन्नाथ धर्मार्थ कैंसर अस्पताल के अंदर सभी बीमारियों के बेहतर इलाज को पूरा करने के उद्देश्य इस अस्पताल को multi-speciality अस्पताल का रूप देने जा रहे हैं और इस अस्पताल के अंदर भवनों एवं कमरों की संख्या बढ़ाने के साथ-साथ मल्टी स्टोरी पार्किंग की व्यवस्था भी करेंगे एक सवाल के जवाब में एमसी गर्ग ने कहा कि जब हम लोगों ने 2002 में एक बड़ी सोच के साथ इस अस्पताल की बुनियाद रखी थी तब हम लोगों की मानसिकता यही थी कि हम कैंसर पीड़ितों का इलाज सस्ता होने के साथ-साथ आधुनिक मशीनों के द्वारा उपलब्ध कराकर परोपकार की एक ऐसी शैली का उदाहरण पेश कर सकें जिससे आगामी पीढ़ी अपने को जोड़कर आगे भी इस तरह के कैंसर पीड़ित मरीजों के लिए सदैव तत्पर रहे और आज हमें अत्यधिक संतुष्टि प्राप्त हो रही है और हमें यह दिखाई पड़ रहा है कि हमारी सोच को जनता और दानदाताओं के सहयोग से कैंसर पीड़ित मरीजों का बेहतर इलाज संभव हो पा रहा है और हमारा अब यह संकल्प है कि हम शीघ्र ही श्री जगन्नाथ धर्मार्थ कैंसर अस्पताल को भारत देश का नंबर वन अस्पताल बनाकर कैंसर पीड़ितों का इलाज आधुनिकता के साथ-साथ विश्व स्तरीय करेंगे

टिप्पणियाँ