आज के दिन सुभाष वादी भारतीय समाजवादी पार्टी का गठन किया गया था।

 


शहीद भगतसिंह, शहीद सुखदेव, शहीद राजगुरु जी के शहीदी दिवस पर श्रृद्धांजलि।

 दिनाँक 23 मार्च 2023, दिन बृहस्पतिवार सुबह सुभाषवादी भारतीय समाजवादी पार्टी (सुभास पार्टी) द्वारा जगदीश नगर स्थित कार्यालय शहीद-ए-आजम भगतसिंह जी शहीद सुखदेव, शहीद राजगुरु जी के 93वें शहीदी दिवस पर श्रृद्धांजलि अर्पित की गई। ज्ञात रहे कि आज ही के दिन 23 मार्च 1931 को लाहौर जेल में क्रूर अंग्रेजों ने भारत माता के तीनों लालों को मानवता को तार-तार करने वाले निर्णय लेकर शाम के समय ही फाँसी दे दी थी। शहीदी दिवस पर श्रद्धांजलि देते हुए सुभासवादी भारतीय समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक श्रीवास्तव ने  कहा भारत माता को अंग्रेजों के दास्ता से मुक्त कराने के लिए शहीद-ए-आजम भगतसिंह, सुखदेव, राजगुरु ने भारत माता के श्री चरणों में अपना शीश अर्पित किए, शहीद-ए-आजम भगत सिंह के पास विस्तृत रुप रेखा थी कि किस प्रकार देश को आजाद कराकर देश के करोड़ों भारतीयों को एक सूत्र में परोकर भारत का परचम विश्व में लहरायें, भगतसिंह और उनके साथियों के क्रांतिकारी कदमों से अंग्रेज सरकार थर्रा उठी थी आज भी हम शहीद-ए-आजम की समाज को एक रखने वाली सामाजिक विचारधारा को धरातल पर उतारकर मजबूत भारत का निर्माण कर सकते हैं। श्रृद्धांजलि देते हुए सुभाषवादी भारतीय समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक सतेन्द्र यादव ने कहा कि भारत को आजाद कराने वाले नायकों, क्रान्तिकारियों शहीद-ए-आजम भगतसिंह, सुखदेव, राजगुरु, चन्द्रशेखर आजाद, सुभाषचन्द्र बोस जैसे लोगों के विचारों को अपनाकर और समाज में उनका प्रचार-प्रसार कर लोगों को जागरुक कर जब हम, एक भारत, सुन्दर भारत और शक्तिशाली भारत का निर्माण करेंगे, तो यही हमारी इन शहीदों के प्रति सच्ची श्रृद्धांजलि होगी, उन्होंने सुभाषवादी भारतीय समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं से आहवान किया कि अपने शहीदों-क्रांतिकारियों और स्वतंत्रता सेनानियों के आदर्शों को अपनाकर भारतवर्ष में फैलायें क्योंकि पार्टी का मूल उद्देश्य यही है। श्रृद्धांजलि देते हुए सुभाषवादी भारतीय समाजवादी पार्टी के ग़ाज़ियाबाद के मेयर उम्मीदवार बी एल बत्रा ने कहा हमारे क्रांतिकारी शहीद और स्वतंत्रता सेनारियों के बीच में कभी भी किसी प्रकार का आपस में भेद-भाव नहीं रहा वह सब भारत माता को आजाद कराने के लिए अपना सर्वोच्च बलिदान करते चले गए और अपने-अपने रास्तों से भारत माता को आजाद कराने को प्रयत्न करते रहे जबकि कुछ लोग जिन्होंने आजादी के आन्दोलन में कोई भी योगदान न दिया वह इन लोगों के मध्य दीवार खड़ी करने में लगे हुए है, ऐसे लोगों से हमें सावधान रहना चाहिए।  साथ ही साथ आज सुभासवादी भारतीय समाजवादी पार्टी का स्थापना दिवस भी मनाया गया जिसमें शहीदों क्रांतिकारियों को श्रद्धांजलि देने के उपरांत भारत माता को नमन करते हुए पार्टी संयोजक ने बताया की दिनांक 23 मार्च 2018 को शहीदों क्रांतिकारियों स्वतंत्रता सेनानियों के त्याग और संघर्ष को जन जन तक पहुंचाने हेतु ही आज के दिन सुभाष वादी भारतीय समाजवादी पार्टी का गठन किया गया था।श्रृद्धाजलि देने वालों में मुख्य रुप से एड़वोकेट सूरजभान सिंह, मनोज कुमार शर्मा ‘होदिया’ अभिनन्दन तिवारी, सियाराम यादव, रामकुमार शर्मा, रामअवतार यादव, दीपक चित्तोड़िया, गोपाल सिंह, रामगणेश सिंह, विरेन्द्र कुमार गुप्ता, राजेश यादव, श्रेंयाश, श्रीवास्तव, रिषेक, पन्नालाल प्रसाद, एडवोकेट राजीव गौतम, गाजियाबाद विधानसभा प्रभारी बीरपाल यादव, साहिबाबाद विधानसभा प्रभारी सुजित तिवारी, राधेश्याम शर्मा, विनोद अकेला, उमेश चंद दीक्षित, अनिल मिश्रा, एन.डी. दीक्षित, कमल यादव, नरसिंह राय, कृपाल सिंह, सोनू, पवन, सन्दीप कुमार, रामगोपाल, रिंकू, जगदीश राय गोयल, नसरुदद्ीन मलिक, विवेक राणा, विकास कुमार, सन्नी, अक्षय, दीपक पाल आदि सैंकड़ों मुख्य रूप से उपस्थित थे।

टिप्पणियाँ