डबल इंजन की सरकार ‘एक जनपद, एक मेडिकल कॉलेज’ की संकल्पना को लागू करने के लिए पूरी ईमानदारी से कार्य कर रही है उ0प्र0 लोक सेवा आयोग की परीक्षा के परिणाम में मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना से कोचिंग प्राप्त करने वाले प्रदेश के 54 अभ्यर्थियों को सफलता मिली हर गांव में खेल का मैदान, ब्लॉक स्तर पर मिनी स्टेडियम तथा जनपद स्तर पर भव्य स्टेडियम का निर्माण कराया जा रहा पी0एम0 गति शक्ति नेशनल मास्टर प्लान के अन्तर्गत महाराजगंज जनपद मुख्यालय से नई रेलवे लाइन को जोड़ने का कार्य किया जाएगा

 


उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आज जनपद महराजगंज में 2,800 करोड़ रुपये से अधिक लागत की 1058 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। इसमें 474 करोड़ रुपये से अधिक लागत की 144 परियोजनाओं का लोकार्पण तथा 2,316 करोड़ रुपये से अधिक लागत की 914 परियोजनाओं का शिलान्यास शामिल है। उन्होंने विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं के लाभार्थियों को प्रमाण-पत्र, आवास एवं ट्रैक्टर की प्रतीकात्मक चाभी, स्वयं सहायता समूहों को प्रतीकात्मक चेक, छात्र-छात्राओं को लैपटॉप, टैबलेट एवं स्मार्टफोन तथा दिव्यांगजन को मोटराइज्ड ट्राईसाइकिल का वितरण किया।

इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के विजन के अनुरूप बिना भेदभाव के गांव, गरीब, किसान, महिला सहित समाज के प्रत्येक तबके तक विकास को ले जाने के लिए नये जज्बे के साथ कार्य करने का नया मिशनरी भाव उत्पन्न हुआ है। आज यह भावना प्रत्येक क्षेत्र में देखी जा सकती है।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि महराजगंज जनपद सीमावर्ती जिला है। इसका अपना इतिहास है। जब भगवान बुद्ध की माँ अपने मायके जा रही थीं, तब रामग्राम जाने के पहले देवदह के पास इसी महराजगंज जनपद में भगवान बुद्ध का जन्म हुआ था। इसका सम्बन्ध ऐतिहासिक पृष्ठभूमि के साथ भी जुड़ा रहा है। आज भी वहां स्थापित स्तूप एवं मिट्टी के टीले इसकी गवाही देते हैं। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि ऐसे स्थलों पर उन्हें स्वयं जाने का सौभाग्य मिला है।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि देश की आजादी के आन्दोलन में महराजगंज से जुड़े विभिन्न स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों का योगदान विस्मृत नहीं किया जा सकता। देश जब आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है, तब भारत माता के उन महान सपूतों का स्मरण हम सभी को नई प्रेरणा प्रदान करता है। आज उन्होंने उन महापुरुषों में से एक प्रो0 शिब्बन लाल सक्सेना की समाधि पर पुष्पांजलि अर्पित की। उन्होंने कहा कि प्रो0 शिब्बन लाल सक्सेना की भव्य प्रतिमा उनके समाधि स्थल पर लगायी जानी चाहिए, ऐसे महापुरुष की स्मृतियों को जीवन्त बनाए रखने के साथ ही, वर्तमान पीढ़ी उनके व्यक्तित्व एवं कृतित्व से प्रेरणा ले सके।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रो0 सक्सेना देश की संविधान सभा के लिए चयनित प्रतिनिधियों में से एक महान हस्ती थे। प्रो0 सक्सेना ने अपना कार्यक्षेत्र इस जनपद को बनाया था। आजादी के बाद भी वे शिक्षा और समाज सेवा की अलख निरन्तर जगाते रहे। ऐसे आदर्श महापुरुषों के कार्य सभी के सामने प्रस्तुत किए जाने चाहिए। ऐसे अनगिनत महापुरुष हुए हैं, जिन्होंने जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में कार्य करते हुए इस जनपद को नई पहचान दिलाने का कार्य किया है।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि आज महराजगंज जनपद अपने प्रगतिशील किसानों, जनसेवकों, नौजवानों की प्रतिभा के माध्यम से देश और दुनिया के सामने अपनी नई पहचान स्थापित कर रहा है। इस अभियान को गति देने के लिए डबल इंजन की सरकार आपके पास बार-बार विकास परियोजनाओं को लेकर आती है। आज लगभग 2,800 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाएं एक जनपद को प्राप्त हो रही हैं, यह कोई सामान्य बात नहीं है।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि वर्ष 2017 से पूर्व, जनपद महराजगंज भी पूर्वी उत्तर प्रदेश के उन जनपदों की तरह अभिशापित जनपद था, जहां वर्षा प्रारम्भ होने के साथ ही इंसेफेलाइटिस का दंश मासूम बच्चों को निगलने लगता था। सैकड़ों बच्चे इस बीमारी की चपेट में आते थे। वर्ष 1977 से वर्ष 2017 के मध्य लगभग 40 वर्षों में पूर्वी उत्तर प्रदेश ने 50,000 मासूमों को खोया है। डबल इंजन की सरकार के सामर्थ्य, जनप्रतिनिधियों एवं प्रशासन के साथ मिलकर किए गए प्रयासों का परिणाम है कि उत्तर प्रदेश से आज इंसेफेलाइटिस का पूर्ण रूप से उन्मूलन हो चुका है। अब कोई भी मासूम इस बीमारी की चपेट में नहीं आएगा। सरकार ने इसके लिए पुख्ता व्यवस्था कर ली है।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि डबल इंजन की सरकार द्वारा शुद्ध पेयजल की आपूर्ति, स्वास्थ्य केन्द्रों का सुदृढ़ीकरण, शौचालय निर्माण, स्वच्छता अभियान का संचालन पूरी ईमानदारी के साथ किया जा रहा है। शुद्ध पेयजल, स्वच्छता, शौचालय, स्वास्थ्य केन्द्रों का सुदृढ़ न होना इंसेफेलाइटिस का मुख्य कारण था। इन सभी समस्याओं का समाधान हो चुका है। शुद्ध पेयजल आधी से ज्यादा बीमारियों का समाधान है। आज जनपद महराजगंज के प्रत्येक परिवार के घर में हर घर नल योजना के माध्यम से शुद्ध आर0ओ0 का पानी पहुंचाने की योजना का शिलान्यास किया गया है। आने वाले समय में हर घर तक शुद्ध पेयजल की आपूर्ति हो जाएगी।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधा प्रत्येक नागरिक का अधिकार है। विशेषज्ञ स्वास्थ्य सुविधाएं प्रत्येक नागरिक को प्राप्त हों, इसके लिए सरकार पूरी प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रही है। डबल इंजन की सरकार ‘एक जनपद, एक मेडिकल कॉलेज’ की संकल्पना को लागू करने के लिए पूरी ईमानदारी से कार्य कर रही है। जनपद महराजगंज में मेडिकल कॉलेज की स्थापना का कार्य युद्धस्तर पर जारी है। आगामी 06 माह में इसका उद्घाटन किया जाएगा। पहले पूर्वी उत्तर प्रदेश में गोरखपुर जनपद में ही मेडिकल कॉलेज था। आज गोरखपुर में एम्स खुल गया है। जनपद कुशीनगर, बलरामपुर, गोण्डा में मेडिकल कॉलेज स्थापित हो रहा है। जनपद देवरिया, सिद्धार्थनगर, बस्ती, बहराइच में मेडिकल कॉलेज प्रारम्भ हो चुके हैं।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि आज लोकार्पित एवं शिलान्यास की गई परियोजनाओं में चौक स्वास्थ्य केन्द्र के उद्घाटन के साथ-साथ हेल्थ ए0टी0एम0 का उद्घाटन भी किया जा रहा है। इसे फंक्शनल करने और ट्रेनिंग देने में कुछ समय लगेगा। यह कार्यक्रम आगे बढ़ाया जा रहा है। लोग बैंकों में ए0टी0एम0 से अपना पैसा निकाल सकते हैं। लेकिन हेल्थ ए0टी0एम0 के माध्यम से विभिन्न प्रकार की जांचें की जा सकेंगी। उस जांच रिपोर्ट को किसी भी बड़े चिकित्सक को भेजकर परामर्श लेकर दवाएं प्राप्त की जा सकती हैं। गोरखपुर, लखनऊ, दिल्ली, मुम्बई, बैंगलुरु, हैदराबाद जाने की आवश्यकता नहीं है, टेक्नोलॉजी वहां आपको ले जा रही है।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि पूर्ववर्ती सरकारों में आवास, शौचालय, बिजली, रसोई गैस कनेक्शन, आयुष्मान भारत कार्ड सहित अनेक सुविधाएं नहीं मिल पाती थीं। वर्तमान राज्य सरकार ने उत्तर प्रदेश में ग्रामीण तथा शहरी क्षेत्रों के 54 लाख गरीब परिवारों को एक-एक आवास उपलब्ध कराया है। 02 करोड़ 61 लाख गरीबों को शौचालय की सुविधा दी गई। 01 करोड़ 55 लाख गरीबों को निःशुल्क विद्युत कनेक्शन उपलब्ध कराए गए। प्रदेश के 15 करोड़ लोगों को विगत 03 वर्षों से निःशुल्क राशन की सुविधा मिल रही है। कोरोना कालखण्ड में निःशुल्क कोविड टेस्ट, उपचार एवं वैक्सीन की सुविधा दी गई। वर्तमान में डबल इंजन की सरकार बिना भेदभाव के महराजगंज के सभी 18 वनटांगिया ग्रामों में आवास, राशन कार्ड सहित समस्त सुविधाएं पहुंचा रही है।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि जनसमर्थन से विकास की प्रक्रिया तेजी से आगे बढ़ रही है। डबल इंजन की सरकार में डबल स्पीड से कार्य हो रहा है। ठूठीबाड़ी मार्ग 4-लेन तथा सोनौली मार्ग 6-लेन का बनने जा रहा है। वर्तमान में महराजगंज से गोरखपुर जाने में मात्र 01 घण्टे का समय लगता है।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रत्येक गांव में युवक मंगल दल तथा महिला मंगल दल का गठन किया जा रहा है। युवक मंगल दलों तथा महिला मंगल दलों को स्पोर्ट्स किट उपलब्ध करायी जा रही हैं। हर गांव में खेल का मैदान, ब्लॉक स्तर पर मिनी स्टेडियम तथा जनपद स्तर पर भव्य स्टेडियम का निर्माण कराया जा रहा है, जिससे युवाओं को स्वस्थ रहने, खेलकूद की गतिविधियों के साथ जुड़ने तथा इसके माध्यम से जनपद एवं देश और प्रदेश के सामर्थ्य को वैश्विक मंच तक पहुंचाने का कार्य किया जा सके। यह कार्यक्रम निरन्तर आगे बढ़ रहे हैं। आज जनपद महराजगंज के मिनी स्टेडियम तथा स्टेडियम के शिलान्यास के कार्य भी सम्पन्न हो रहे हैं।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि युवाओं के जीवन में खुशहाली लाने के लिए प्रत्येक जनपद में अच्छे केन्द्र बनाए जा रहे हैं। मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के माध्यम से प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए निःशुल्क कोचिंग की व्यवस्था की जा रही है। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की परीक्षा के परिणाम में मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना से कोचिंग प्राप्त करने वाले प्रदेश के 54 अभ्यर्थियों को सफलता मिली है। नौजवानों को तकनीकी दृष्टि से सक्षम बनाने हेतु प्रत्येक जनपद में स्नातक और परास्नातक स्तर के छात्रों को टैबलेट तथा स्मार्टफोन प्रदान किया जा रहा है। इससे यहां का नौजवान देश और दुनिया की जानकारी प्राप्त कर सकता है। डिजिटल लाइब्रेरी के साथ स्कूल एवं कॉलेजों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों को जोड़ा जा सकेगा।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि विकास से वर्तमान पीढ़ी के साथ-साथ भावी पीढ़ी का भी भविष्य उज्ज्वल होगा। वर्ष 2017 से पूर्व, प्रदेश के नौजवानों के सामने पहचान का संकट था। आज यहां का नौजवान पहचान का मोहताज नहीं है। वह गर्व के साथ कह सकता है कि मैं उसी उत्तर प्रदेश से आया हूं, जहां प्रभु श्रीराम ने जन्म लिया था, भगवान श्रीकृष्ण की जन्म भूमि है, बाबा विश्वनाथ का धाम है, भगवान बुद्ध के सर्वाधिक तीर्थ स्थल हैं। इसके अलावा, राज्य की पहचान सुशासन के मॉडल के रूप में बढ़ रहे उत्तर प्रदेश की है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि आज जिन परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया गया है, उन परियोजनाओं को जमीनी धरातल पर उतारने के लिए हम सभी को तेजी से कार्य करना होगा। पी0एम0 गति शक्ति नेशनल मास्टर प्लान के अन्तर्गत महाराजगंज जनपद मुख्यालय से नई रेलवे लाइन को जोड़ने का कार्य किया जाएगा। इस प्रकार की योजना जब बड़ी परियोजनाओं के साथ जुड़ेंगी, तो अनेक सम्भावनाओं के द्वार खुलेंगे।

केन्द्रीय वित्त राज्यमंत्री श्री पंकज चौधरी ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री जी के विगत 06 वर्ष के कार्यकाल में प्रदेश में निवेश का वातावरण सृजित हुआ है और कानून-व्यवस्था स्थापित हुई है। मुख्यमंत्री जी ने केन्द्र सरकार की योजनाओं को धरातल पर उतारने का कार्य किया है। प्रदेश में विकास की गति बढ़ी है।

मुख्यमंत्री जी ने जनपद के सभी 04 तहसील कार्यालयों-सदर, निचलौल, फरेंदा और नौतनवां के आई0एस0ओ0 9001 के मानकों से युक्त होने का जिलाधिकारी, अपर जिलाधिकारी सहित चारों तहसीलों के एस0डी0एम0 को आई0एस0ओ0 प्रमाण-पत्र प्रदान किया। जनपद की 06 प्रमुख परियोजनाओं के मॉडल का अवलोकन भी किया।

ज्ञातव्य है कि लोकार्पित की गई प्रमुख परियोजनाओं में 01 करोड़ 19 लाख रुपये की लागत से जिला संयुक्त चिकित्सालय में निर्मित कॉम्प्रिहेंसिव इमरजेंसी यूनिट, रोहिन नदी के बाएं तट पर निर्मित अमहवा रिंग तटबन्ध का 2.68 करोड़ रुपये की लागत से सुरक्षात्मक कार्य और अराजी सुवाइन सुबेदारपुर बांध के बीच 08 करोड़ 32 लाख रुपये की लागत से सेक्शन सुधार व बाढ़ सुरक्षात्मक कार्य शामिल हैं। इसके अलावा, महराजगंज में 220 के0वी0 के विद्युत उपकेन्द्र का लोकार्पण भी किया गया।

शिलान्यास की गई प्रमुख परियोजनाओं में सेमरा उर्फ कम्हरिया सम्पर्क मार्ग, पचदेवरी से नन्दना सम्पर्क मार्ग का नवनिर्माण, मौन नाले के बगहवां बाबा स्थान पर लघु सेतु पहुंच मार्ग, रोहिन नदी के दोनों तट पर कटाव निरोधक कार्य एवं सेक्शन सुधार कार्य हैं। इसके साथ ही बड़ी गंडक नदी के दाएं तट स्थित नारायणी छितौनी तटबन्ध के स्पर संख्या 3 से 5 के डाउन स्ट्रिम तक परक्यूपाइन कार्य, बौद्ध स्थल, रामग्राम के पर्यटन विकास कार्य, 09 करोड़ 55 लाख रुपये की लागत से श्री दिग्विजयनाथ उच्चतर माध्यमिक विद्यालय परिसर में ग्रामीण स्टेडियम का निर्माण, नगर पंचायत बृजमनगंज एवं पनियरा में कल्याण मण्डप पनियरा खास एवं धगरहवा में पानी की टंकी एवं पाइपलाइन, चौक टिकट घर से वनटांगिया ग्राम कम्पार्ट संख्या-24 स्थित वन्य क्षेत्र तक सम्पर्क मार्ग, लघु सेतु एवं इण्टरलॉकिंग, सोहगीबरवां वन्य जीव प्रभाग में ईको-टूरिज्म विकास कार्य एवं लेपर्ड रेस्क्यू सेण्टर, वनटांगिया ग्राम बैलोहा दर्रा, कांधपुर दर्रा, खुरमपुर, अचलगढ़ एवं तिनकोनिया को पी0डब्ल्यू0डी0 मार्ग से जोड़ने के लिए इण्टरलॉकिंग, 686 ग्राम पंचायतों में पेयजल परियोजना का शिलान्यास शामिल है।

इस अवसर पर आयुष एवं खाद्य सुरक्षा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री दयाशंकर मिश्र ‘दयालु’ सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण तथा शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।
टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
कोरोना वायरस: भारत में 1.56 लाख से अधिक की मौत, विश्व में मृतक संख्या 25 लाख के पार
चित्र
राम नाम सत्य है - प्रेम श्रीवास्तव
चित्र