फर्जीवाड़े के लिए कंडक्टर ने बनाया वाहट्स एप ग्रुप, लगा लाखों का चूना

लखनऊ। फर्जीवाड़ के लिए लखनऊ सिटी बस कंडक्टर ने अलग से एक वाहट्स एप ग्रुप बनाया और इससे 250 से अधिक चालक व परिचालकों को जोड़ा। उसने ऐसा इसलिए किया ताकि वो बराबर एकदूसरे के संपर्क में रहकर चेकिंग दलों का लोकेशन लेते रहें और बिना टिकट लोगों को यात्रा कराकर सिटी बस प्रबंधन को चूना लगाते रहें।


 


इस फर्जीवाड़े का खुलासा तब हुआ जब एक सिटी कंडक्टर का यात्री लोड फैक्टर 60 फीसदी के स्थान पर केवल 36 फीसदी निकला जबकि वहीं सिटी बस प्रबंधन की टीम ने उसका मोबाइल चेक किया तो सारे मामले का पता चला। उसके मोबाइल में जय बाबा नीम करौरी नाम से ऐसा वाट्सएप ग्रुप बनाया गया था। जिसमें गोमतीनगर और दुबग्गा बस डिपो के 200 से अधिक ड्राइवर कंडक्टर जुड़े थे।


 


ग्रुप बीते एक वर्ष से चल रहा था। इसके चलते सिटी बस प्रबंधन को कई लाख रुपये का तगड़ा झटका लगा जबकि पहले से ही सिटी बसों की आर्थिक बदहाली किसी से छिपी नहीं है।


टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
यूपी सरकार से तंग आ चुके हैं हम, वहां जंगलराज जैसी स्थितिः सुप्रीम कोर्ट
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र