अब उपभोक्ता के बैंक खाते में सीधे आएगी बिजली सब्सिडी, अघोषित कटौती पर लगेगा जुर्माना

केंद्र सरकार की घोषित नई बिजली टैरिफ नीति में किए गए नवीन प्रावधानों के अनुसार अब बिजली सब्सिडी सीधे उपभोक्ताओं के बैंक खाते में आएगी। इतना ही नहीं सरकार अब अघोषित बिजली कटौती करने वाली कंपनियों पर भारी जुर्माना भी लगाएगी।इस मसौदे को केंद्र सरकार की शक्ति मंत्रालय (मिनिस्ट्री ऑफ पावर) ने तैयार किया है। जिसे अगस्त माह से लागू भी किया जाएगा। इस मसौदे में किए गए प्रावधानों के कारण बिजली चोरी रोकने में मदद मिलेगी और उपभोक्ताओं को अघोषित बिजली कटौती का सामना नहीं करना पड़ेगा।


उपभोक्ताओं को नहीं देना होगा चोरी हुई बिजली का बिल


अब उपभोक्ताओं से कंपनियां उपयोग की गई बिजली की मात्रा से ज्यादा का बिल नहीं वसूल पाएंगी। अब तक ट्रांसमिशन व डिस्ट्रीब्यूशन के दौरान हुई बिजली हानि को भी उपभोक्ताओं के खाते में जोड़ दिया जाता है। कंपनियां अब केवल उतनी ही बिजली जोड़ पाएंगी, जितनी की आपूर्ति की गई है।


सभी घरों में लगाई जाएगी स्मार्ट मीटर


नई टैरिफ नीति के प्रावधानों के अनुसार अगले तीन साल में हर घर में बिजली कनेक्शन और स्मार्ट मीटर लगाया जाएगा। ग्राहकों को आसान किस्तों पर स्मार्ट मीटर उपलब्ध कराने की योजना है।


टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
रूस में दो नए काउंसलेट खोलने का ऐलान, मॉस्को में बोले मोदी- भारत का विकास देख दुनिया भी हैरान
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र