प्रणब मुखर्जी, नानाजी देशमुख और भूपेन हजारिका को मिला भारत रत्न

नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुरुवार को पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, जनसंघ के नेता नानाजी देशमुख और मशहूर गायक भूपेन हजारिका को सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार भारत रत्न से सम्मानित किया। गणतंत्र दिवस पर भारत रत्न देने का ऐलान किया गया गया था। नानाजी और हजारिका को मरणोपरांत यह सम्मान मिला है।



भूपेन के बेटे तेज हजारिका ने राष्ट्रपति के हाथों सम्मान ग्रहण किया। दीनदयाल रिसर्च इंस्टीट्यूट के चेयरमैन वीरेंद्रजीत सिंह ने नानाजी की ओर से यह सम्मान ग्रहण किया। राष्ट्रपति के रूप में प्रणब दा का कार्यकाल वर्ष 2017 में पूरा हुआ था। वे दिग्गज कांग्रेसी नेताओं में शुमार किए जाते हैं।


नानाजी जनसंघ के विचारक और भाजपा के संस्थापक सदस्यों में से एक रहे हैं। भूपेन हजारिका प्रसिद्ध असमिया कवि और संगीतकार थे। बॉलीवुड मूवी रुदाली में गाया उनका गाना दिल हू हू करे...काफी लोकप्रिय हुआ था।


टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
यूपी सरकार से तंग आ चुके हैं हम, वहां जंगलराज जैसी स्थितिः सुप्रीम कोर्ट