आगामी जनगणना 2021 के मकान सूचीकरण, मकानों की गणना तथा राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर को अद्यतन करने हेतु छह दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्घाटन
आगामी जनगणना 2021 के मकानसूचीकरण व मकानों की गणना तथ राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर को अद्यतन करने के कार्य के लिए कल दिनांक 02.12.2019 को दीन दयाल उपाध्याय ग्राम्य विकास संस्थान लखनऊ में 06 दिवसीय राज्य स्तरीय प्रशिक्षण कार्यक्रम के द्वितीय चरण का उद्घाटन किया गया। इस कार्यक्रम के द्वितीय चरण में उत्तर प्रदेश राज्य के 29 जिलों से आए हुए 90 मास्टर ट्रेनर्स को प्रशिक्षित किया जा रहा है। पुनः दिनांक 16.12.2019 से 21.12.2019 तक आयोजित तीसरे एवं अंतिम चरण में शेष 17 जिलों के 60 मास्टर ट्रेनर्स को प्रशिक्षित किया जाएगा। इस प्रकार उत्तर प्रदेश राज्य के समस्त 75 जिलों के 240 मास्टर ट्रेनर्स का प्रशिक्षण दिनांक 21.12.2019 तक पूर्ण कर लिया जायेगा। 

कार्यक्रम का उद्घाटन श्री एल0 वेंकटेश्वर लू0, महानिदेशक दीन दयाल उपाध्याय ग्राम्य विकास संस्थान, बक्शी का तालाब, लखनऊ डा0 हरिओम, सचिव सामान्य प्रशासन एवं श्री नरेन्द्र शंकर पाण्डेय, निदेशक, जनगणना कार्य, उत्तर प्रदेश द्वारा किया गया। इस अवसर पर श्री नरेंद्र शंकर पाण्डेय ने जनगणना के महत्व से अवगत कराते हुए कहा कि जनगणना कार्य में यदि कोई विसंगति पायी गयी या कोई किसी कार्य को बाधित करता है तो वह जनगणना अधिनियम के अंतर्गत सजा का पात्र होगा। प्रथम चरण के प्रशिक्षण में अनुपस्थित अधिकारियों के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई की जा रही है। इस सम्बन्ध में सम्बंधित जिलाधिकारियों को मामला संदर्भित कर रिपोर्ट मांगी गयी है। 

उद्घाटन सत्र के मुख्य अतिथि, डा0 हरिओम ने इस अवसर पर कहा है कि जनगणना का कार्य केन्द्र एवं राज्य सरकार के सामूहिक प्रयास से सम्पन्न किया जाएगा एवं जनगणना को जन-जन की भागीदारी से जोड़ा जाये तथा इसे जन-अभियान बनाया जायें ताकि जनगणना के सही आंकड़ें प्राप्त हो सकें। 

अपने अध्यक्षीय उदबोधन में श्री एल0 वेंकटेश्वर लू ने जनगणना के समृद्ध इतिहास एवं प्रासंगिकता पर प्रकाश डालते हुए कहा कि जनगणना के कार्य में अनेक अवरोध आएंगे परन्तु मास्टर ट्रेनर्स को देश के विकास में अपनी भूमिका के महत्व को ध्यान में रखते हुए अपने दायित्वों का ईमानदारी से निर्वहन करते हुए जनगणना कार्य को सफलतापूर्वक सम्पन्न करना चाहिए। 

इस अवसर पर श्री प्रदीप कुमार, उप महारजिस्ट्रार, ने कहा कि जनगणना कार्य निदेशालय द्वारा राज्य के जनगणना कार्य में संलग्न प्रत्येक व्यक्ति को पूर्ण सहयोग प्रदान किया जाएगा। डा0 डी0सी0 उपाध्याय, अपर निदेशक एसआईआरडी ने इस कार्यक्रम में प्रतिभाग करने वाले सभी अधिकारियों एवं प्रतिभागियों को धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन श्री ए0के0 राय, उप निदेशक जनगणना एवं श्री बी0डी0 चैधरी, उप निदेशक द्वारा किया गया। इस कार्यक्रम में डा0 एस0एस0 शर्मा, उप निदेशक श्री अरूण कुमार, उप निदेशक श्री संतोष कुमार मिश्रा, उप निदेशक डा0 गौरव कुमार पाण्डेय, सहायक निदेशक, श्री एन0सी0 त्रिपाठी, परामर्शदाता श्री हेमेन्द्र शर्मा, राष्ट्रीय प्रशिक्षक, डा0 योगेन्द्र कुमार, सहायक निदेशक श्री उमेश चन्द्र जोशी, श्री एस0 के पाण्डेय, श्री हेमंत मिश्र, श्री संतोष कुमार, सांख्यिकी अन्वेषक, श्री शशिकांत शुक्ला, सांख्यिकी अन्वेषक, श्री गोविंद कुमार, सांख्यिकी अन्वेषक सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे। 

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
बुद्धेश्वर महादेव मंदिर में महादेव व नव स्थापित भगवान परशुराम मूर्ति की पूजा अर्चना
चित्र
यूपी सरकार से तंग आ चुके हैं हम, वहां जंगलराज जैसी स्थितिः सुप्रीम कोर्ट
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र