CORONAVIRUS : इटली-कोरिया से आने वालों को देना होगा प्रमाणपत्र, PM मोदी का बेल्जियम दौरा टला


नई दिल्ली। चीन से शुरू हुआ कोरोना वायरस अब चारों ओर फैल गया है। इसकी दहशत दुनियाभर में देखी जा रही है। भारत में भी यह तेजी से अपने पैर जमा रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक अतिरिक्त यात्रा परामर्श (ट्रैवल एडवाइजरी) जारी की है, जिसमें कहा गया है जो लोग इटली और कोरिया यात्रा पर गए हों या वहां से आए हों, उन्हें भारत में प्रवेश करने से पहले कोरोना वायरस से संक्रमित न होने का प्रमाणपत्र इन देशों में मान्यता प्राप्त लैब को देना होगा।


यह नियम 10 मार्च के रात 12 बजे से लागू होगा और इस बीमारी के खत्म होने तक लागू रहेगा। कोरोना वायरस के दो नए मामले 2 मार्च को सामने आने के बाद केंद्र सरकार ने विदेश यात्रा को लेकर भी परामर्श जारी किया था, जिसके अंतर्गत चीन और ईरान के नागरिकों को जारी ई-वीजा/वीजा रद्द कर दिया गया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि स्थिति के अनुसार वीजा पर रोक का विस्तार अन्य देशों के लिए भी किया जा सकता है।


इससे पहले बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फैसला किया था कि वे इस बार किसी भी होली मिलन समारोह में शिरकत नहीं करेंगे। अब कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए पीएम मोदी का बेल्जियम दौरा टाल दिया गया है।


मोदी को भारत-यूरोपीय संघ शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेना था, लेकिन इस आयोजन को स्थगित कर दिया गया है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने आज यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि दोनों देशों के स्वास्थ्य अधिकारियों ने सुझाव दिया कि मौजूदा परिस्थितियों को देखते हुए यह दौरा मुनासिब नहीं रहेगा।


अब दौरे की अगली तारीख बाद में तय की जाएगी। रवीश ने इसके अलावा बताया कि कोरोना वायरस प्रभावित भारतीयों की जांच के लिए आज हमारी टीम ईरान पहुंच जाएगी और वहां स्क्रीनिंग शुरू कर दी जाएगी।


इस बीच, दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद से कोरोना वायरस का मामला सामने आया है। एक युवक का टेस्ट पॉजिटिव पाया गया है। अब देश में कोरोना वायरस के 30 मरीज हो गए हैं। आज लखनऊ एयरपोर्ट पर भी संदिग्ध रोगी मिलने से हडक़ंप मच गया। प्रारंभिक जांच के बाद उसे लोक बंधु अस्पताल भेज दिया गया। वह सुबह आबूधाबी से लखनऊ पहुंचा और कानपुर का रहने वाला है। उधर, दिल्ली में 31 मार्च तक सभी प्राथमिक स्कूल बंद कर दिए गए हैं।


टिप्पणियाँ