आत्म निर्भर भारत की परिकल्पना जरूर सच होगी -अधिवक्ता मिथिलेश तिवारी


          अधिवक्ता मिथिलेश तिवारी


नई दिल्ली लक्ष्मी नगर हिं.दै.आज का मतदाता ,दिल्ली टैक्स बार एसोसिएशन के कोषाध्यक्ष एवं युवा अधिवक्ता जो पूर्व से लेकर करोना काल की वैश्विक महामारी में स्वयं के साथ-साथ अन्य संस्थाओं से जुड़कर मानवीय सरोकार के कार्य में लगे रहते हैं एक संक्षिप्त वार्ता के अंतर्गत बताया कि भारत देश इस वक्त कई चुनौतियों से गुजर रहा है लेकिन भारतीय मिट्टी हमेशा शिखर की ओर अग्रसारित रहती है। पूरे विश्व में करोना जैसी महामारी ने भारतीय संस्कारों के स्वभाव के कारण अपनी खौफनाक तांडव नहीं मचा पाई जिसमें सबसे बड़ा श्रेय भारतीय परंपरा एवं उस परंपरा के उद्घोषक देश के साथ-साथ पूरे विश्व को एक सूत्र में बांधने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जाता है। एडवोकेट मिथिलेश तिवारी ने कहा कि आज भी दूसरे नंबर की सबसे बड़ी आबादी वाला भारत देश इस वैश्विक महामारी में मृत्यु दर में सबसे निचले पायदान पर है। आपने कहा कि यदि हम देश की आर्थिक स्थिति एवं गतिविधियों की बात करें तो यह बात हमें समझना पड़ेगा कि व्यापार का दृष्टिकोण बदल चुका है अंतरराष्ट्रीय प्रतिस्पर्धा के साथ-साथ अंतरराष्ट्रीय बाजार की कामयाबी एवं गिरावट स्वदेशी व्यापार पर प्रभाव के रूप में दिखाई पड़ती है। दूसरे शब्दों में कह सकते हैं कि भारतीय आर्थिक मंदी का एक बड़ा कारण विश्व में व्याप्त मंदी का एक प्रत्यक्ष संकेत है। आपने कहा कि इस मंदी से उबरने के लिए सरकार ने कई योजनाओं की घोषणा की है जिसमें प्रमुख आत्म निर्भर भारत की परिकल्पना है  जिसे मोदी जी अपने कुशल नेतृत्व के बदौलत घर-घर तक पहुंच जाएंगे क्योंकि भारत देश सही मायने में चाइना के कारोबार का एक डंपिंग हब बन चुका है । आपने कहा कि यदि हर भारतीय आत्मनिर्भर भारत की कड़ी से सीधे अपने को जोड़ता है तो मुझे पूरा विश्वास है कि इसकी परिकल्पना सच होगी और देश का आर्थिक पहिया तेजी से दौड़ेगा। आपने कहा कि हम सब भारतीय प्रोडक्ट को प्रोत्साहित करें इससे देश के साथ-साथ हर  भारतवासी मजबूत होगा । वर्तमान कानूनी प्रक्रिया में हो रहे सवाल के जवाब में आप ने कहा कि यदि संबंधित केस में समय सीमा की सुनिश्चितता और गवाह की मजिस्ट्रेट के समक्ष उसकी गवाही की वीडियो रिकॉर्डिंग के साथ साथ कोर्ट के हर क्षेत्र में डिजिटल माध्यम की उपयोगिता बढ़ाई जाती है तो  न्याय जल्दी मिलेगा और आम जनमानस का कोर्ट के प्रति आस्था और बढ़ेगी एक अन्य गंभीर सवाल के जवाब में आप ने कहा कि जीएसटी एक्ट अच्छा है है बस इसका सरलीकरण इस दृष्टिकोण से किया जाए कि व्यापारी इस को अपनाने में अपने को मजबूत समझें और वह इसे ज्यादा से ज्यादा लाभ अर्जित करके देश को टैक्स के रूप में अपना आर्थिक सहयोग निरंतर देता रहे


टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
रूस में दो नए काउंसलेट खोलने का ऐलान, मॉस्को में बोले मोदी- भारत का विकास देख दुनिया भी हैरान
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र