कोरोना वायरस: संक्रमण के कुल मामले 60 लाख के क़रीब पहुंचे, 94 हज़ार से अधिक की मौत


हिं.दै.आज का मतदाता भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़कर 5,992,532 हो गए हैं और अब तक इस महामारी से 94,503 लोगों की जान जा चुकी है.विश्व में संक्रमण के मामले 3.28 करोड़ से ज़्यादा हो गए हैं, जबकि 9.94 लाख से अधिक लोगों की मौत हुई है.


नई दिल्ली: भारत में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 88,600 नए मामले सामने आए, जिसके बाद देश में संक्रमण के कुल मामले 60 लाख के करीब पहुंच गए.


केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से रविवार सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 88,600 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमण के मामले बढ़कर 5,992,532 हो गए हैं. वहीं इस दौरान 1,124 लोगों की मौत होने से मृतक संख्या 94,503 हो गई है.


आंकड़ों के मुताबिक, देश में अब तक 4,941,627 लोग संक्रमणमुक्त हो चुके हैं और 956,402 लोगों का इलाज चल रहा है, जो कुल मामलों का 15.96 प्रतिशत है.


इस प्रकार संक्रमण से ठीक होने की राष्ट्रीय दर 82.46 प्रतिशत हो गई है. देश में संक्रमण से मृत्यु दर 1.58 प्रतिशत है.


भारत में कोविड-19 मरीजों की संख्या सात अगस्त को 20 लाख को पार कर गई थी, जबकि 23 अगस्त को 30 लाख के पार और पांच सितंबर को 40 लाख के पार पहुंच गई थी. 16 सितंबर को यह आंकड़ा 50 लाख के पार चला गया.


आंकड़ों के मुताबिक, भारत में कोविड-19 संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 10 लाख से 20 लाख तक पहुंचने में 21 दिनों का समय लगा था, जबकि 20 से 30 लाख की संख्या होने में 16 और दिन लगे. हालांकि 30 लाख से 40 लाख तक पहुंचने में मात्र 13 दिनों का समय लगा है. वहीं, 40 लाख के बाद 50 लाख की संख्या को पार करने में केवल 11 दिन लगे.


देश में 110 दिन में कोविड-19 के मामले एक लाख हुए थे और 59 दिनों में वह 10 लाख के पार चले गए थे.


भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार, देश में 26 सितंबर तक कुल 71,257,836 नमूनों की जांच की गई. इनमें से 987,861 नमूनों की जांच शनिवार को की गई.


वायरस के मामले और मौतें


बीते 24 घंटे या एक दिन में संक्रमण के नए मामलों की बात करें तो बीते 26 सितंबर को 85,362, 25 सितंबर को 86,052, 24 सितंबर को 86,508, 23 सितंबर को 83,347, 22 सितंबर को 75,083, 21 सितंबर को 86,961, 20 सितंबर को 92,605, 19 सितंबर को 93,337, 18 सितंबर को 96,424, 17 सितंबर को 97,894 मामले दर्ज किए गए थे, जो अब तक का सर्वाधिक आंकड़ा है.


इसके अलावा 16 सितंबर को 90,123, 15 सितंबर को 83,809, 14 सितंबर को 92,071, 13 सितंबर को 94,372, 12 सितंबर को 97,570, 11 सितंबर को 96,551, 10 सितंबर को 95,735, नौ सितंबर को 89,706, आठ सितंबर को 75,809 और सात सितंबर को 90,802 नए मामले दर्ज किए गए थे.


छह सितंबर को संक्रमण के नए मामले पहली बार 90 हजार (90,632) के पार हो गए थे. 28 अगस्त को पहली बार 70 हजार (75,760) के पार, सात अगस्त को पहली बार 60 हजार (62,538) के पार, 30 जुलाई को पहली बार 50 हजार के पार हो गए थे.


इसी तरह 20 जुलाई को यह पहली बार 40 हजार के पार, 16 जुलाई को पहली बार 30 हजार के पार, 10 जुलाई को पहली बार 25 हजार (26,506) के पार, तीन जुलाई को पहली बार 20 हजार के पार, 21 जून को पहली बार 15 हजार के पार और 20 जून को संक्रमण के नए मामलों की संख्या पहली बार 14 हजार के पार हुई थी.


एक दिन या 24 घंटे के दौरान मरने वालों संख्या की बात करें तो बीते 26 सितंबर को 1,089, 25 सितंबर को 1,141, 24 सितंबर को 1,129, 23 सितंबर को 1,085, 22 सितंबर को 1,053, 21 सितंबर को 1,130, 20 सितंबर को 1,133, 19 सितंबर को 1,247, 18 सितंबर को 1,174, 17 सितंबर को 1,132, 16 सितंबर को 1,290 लोगों की मौत हुई, जो अब तक की सर्वाधिक संख्या है.


15 सितंबर को 1,054, 14 सितंबर को 1,136, 13 सितंबर को 1,114, 12 सितंबर को 1,201, 11 सितंबर को 1,209, 10 सितंबर को 1,172, नौ सितंबर को 1,115 और आठ सितंबर को 1,133, सात सितंबर को 1,016, छह सितंबर को 1,065, पांच अगस्त को 1,089, चार सितंबर को 1,096, तीन सितंबर को 1,043, दो सितंबर को 1,045, एक सितंबर को 819 लोगों की मौत हुई.


10 अगस्त से 31 अगस्त तक बीते 24 घंटे या एक दिन में मरने वालों की संख्या 1007 से अधिकतम 1,092 (19 अगस्त का आंकड़ा) के बीच रही. 24 जुलाई से नौ अगस्त के बीच एक दिन या 24 घंटे में मौत का आंकड़ा 700 से लेकर 933 (आठ अगस्त का आंकड़ा) के बीच रहा है. एक जुलाई से 23 जुलाई के बीच यह आंकड़ा 507 से 1,129 के बीच रहा.


11 जून से 30 जून के बीच मरने वालों की संख्या 300 से 500 के अंदर रही है. 22 जून को एक दिन में मरने वालों की संख्या पहली बार 400 से अधिक रही थी. और 11 जून को पहली बार मरने वालों की संख्या 300 के आंकड़े को पार कर गई थी.


महाराष्ट्र में सबसे अधिक लोगों की मौत


रविवार को जारी स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, बीते 24 घंटे के दौरान संक्रमण से हुई 1,124 मौतों में से महाराष्ट्र में 430, कर्नाटक में 86, तमिलनाडु में 85, उत्तर प्रदेश में 67, आंध्र प्रदेश में 57, पश्चिम बंगाल में 56, पंजाब में 54, दिल्ली में 46 और छत्तीसगढ़ में 40 लोगों की मौत हुई है.


देश में अब तक संक्रमण से 94,503 लोगों की मौत हो चुकी है, जिनमें महाराष्ट्र में 35,191, इसके बाद तमिलनाडु में 9,233, कर्नाटक में 8,503, आंध्र प्रदेश में 5,663, उत्तर प्रदेश में 5,517, दिल्ली में 5,193, पश्चिम बंगाल में 4,721, गुजरात में 3,406,पंजाब में 3,188 और मध्य प्रदेश में 2,181 लोगों की मौत हुई है.


स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि मरने वाले 70 प्रतिशत से अधिक लोग अन्य बीमारियों से भी पीड़ित थे.


दुनियाभर में मामले 3.28 करोड़ से ज़्यादा, 9.94 लाख से अधिक की मौत


अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, पूरी दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 32,867,270 हो गए हैं और अब तक 994,499 लोगों की जान जा चुकी है.


दुनियाभर में कोरोना से अमेरिका सबसे अधिक प्रभावित देश है. यहां संक्रमण के अब तक 7,078,798 मामले सामने आए हैं, जबकि मरने वालों की संख्या 204,497 हो चुकी है.


भारत संक्रमण से सर्वाधिक प्रभावित दूसरा देश है. भारत के बाद तीसरे सर्वाधिक प्रभावित देश ब्राजील में संक्रमण के अब तक 4,717,991 मामले मिले हैं और 141,406 लोग दम तोड़ चुके हैं.


ब्राजील के बाद रूस चौथे स्थान पर है, जहां संक्रमण के 1,146,273 मामले मिले हैं और 20,239 लोगों की जान जा चुकी है.


रूस के बाद संक्रमण से पांचवें सर्वाधिक प्रभावित देश कोलंबिया में 806,038 मामले आए हैं, जबकि 25,296 मरीजों की मौत दर्ज की जा चुकी है.


कोलंबिया के बाद छठे सर्वाधिक प्रभावित देश पेरू में संक्रमण के 794,584 मामले (शनिवार तक) हैं और 32,037 लोगों ने जान गंवा दी है. पेरू के बाद सातवें प्रभावित देश मैक्सिको में 726,431 मामले सामने आए हैं और 76,243 मौतें हुई हैं.


मैक्सिको के बाद आठवें प्रभावित देश स्पेन में संक्रमण के 716,481 मामले (शनिवार तक) दर्ज हुए हैं, जबकि 31,232 मौतें हुई हैं. स्पेन के बाद नौवें सर्वाधिक प्रभावित अर्जेंटीना में संक्रमण के 702,484 मामले सामने आए हैं और 15,543 मौतें हुई हैं.


अर्जेंटीना के बाद 10वें सर्वाधिक प्रभावित देश दक्षिण अफ्रीका में संक्रमण के 669,498 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि 16,376 लोगों की यह महामारी जान ले चुकी है.


टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
रूस में दो नए काउंसलेट खोलने का ऐलान, मॉस्को में बोले मोदी- भारत का विकास देख दुनिया भी हैरान
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र