न्याय मिलने के साथ-साथ न्याय दिखाई भी देना आवश्यक है- वरिष्ठ अधिवक्ता प्रेमलता बंसल


वरिष्ठ अधिवक्ता प्रेमलता बंसल


 हिं.दै.आज का मतदाता नई दिल्ली सिविल लाइन, वरिष्ठ अधिवक्ता एवं आयकर विभाग में स्टैंडिंग काउंसिल के पद पर नियुक्त होकर विभाग के तथ्यों को हाई कोर्ट एवं सुप्रीम कोर्ट के पटल पर अपनी बात को न्याय के लिए बुनियादी एवं मजबूत तर्क शक्ति से रखने वाली एवं  जनमानस के अधिकारों के प्रति सदैव समर्पित, निरंतर कार्यशील, युवाओं की प्रेरणा स्रोत, शांत स्वभाव ,और परिवार के साथ साथ अधिवक्ताओं एवं देश के लिए भी मार्गदर्शक बन चुकी वरिष्ठ अधिवक्ता प्रेमलता बंसल ने एक वार्ता के अंतर्गत कहा कि आज न्याय जल्दी मिलना नितांत आवश्यक है, लेकिन न्याय जल्दी मिला यह दिखाई भी देना उतना ही आवश्यक है जितना न्याय मिलना आवश्यक है l आपने न्यायिक संबंधी सभी सार्थक बदलाव की पैरवी की और कहा कि आज के संवैधानिक लोकतांत्रिक प्रक्रिया जो विश्व में भारत देश की सर्वोपरि है उसमें यह सुनिश्चित होना बहुत आवश्यक है कि न्याय लोगों को दिखाई भी दे रहा है l  आपने कहा कि आज सबसे ज्यादा न्यायिक क्षेत्र में बुनियादी बदलाव की आवश्यकता है, क्योंकि जजों और कोर्ट की संख्या भारत देश की जनसंख्या के अनुपात में काफी कम है l वरिष्ठ अधिवक्ता प्रेमलता बंसल ने कहा कि आज कानून की जागरूकता हर आम नागरिक के पास सही जानकारी के रूप में हो, यह सरकार की प्रथम प्राथमिकता होनी चाहिए l  आज कोर्ट में लाखों मुकदमों का अंबार लगा है जिसमें कोर्ट, समय, और पैसा सभी का कुछ हद तक दुरुपयोग हो रहा है, जिसके पीछे सबसे बड़ा कारण लोगों की कानून की सही रूप से जानकारी का ना होना पाया जाता है, इसलिए बहुत आवश्यक है कि सरकार ऐसी ठोस नीति बनाए जिससे कि देश का हर नागरिक अपने अधिकारों एवं कर्तव्यों को बखूबी जान सके तथा उसे यह भी पता हो कि यदि वह देश के किसी भी कानून का उल्लंघन करता है तो उसे सजा हो सकती है और उसे होने वाली सजा का आकार, समय सीमा या उसकी स्वरूप कैसी हो सकती है l वरिष्ठ अधिवक्ता प्रेमलता बंसल ने एक अन्य बहुत ही गंभीर सवाल के जवाब में अपनी बात रखी कि सरकार सदैव नई योजनाओं को लागू करने की बात करती है, सरकार को चाहिए कि जब कोई योजनाएं लागू करने की घोषणा हो तो पूर्व में घोषित योजना कितनी कारगर साबित हुई , कितने लोगों को उससे फायदा हुआ तथा संबंधित योजना में कौन-कौन सी गलतियां सामने आई , इन सभी तथ्यों की जानकारी जनता को बताना चाहिए जिससे सरकार और आम जनमानस में पारदर्शिता के साथ विश्वास में भी बढ़ोतरी होती रहे l


टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
स्वास्थ्य के प्रति हमेशा सजग रहे डॉक्टर नीतिका शुक्ला
चित्र